युवा दंपत्ति के डीएनए परीक्षण के लिए रक्त के नमूने भेजे गए रूस

Mar 21, 2016

प्राधिकारियों ने फ्लाई दुबई के विमान हादसे में मारे गए केरल के युवा दंपत्ति के शवों की पहचान के लिए डीएनए जांच की खातिर रूस भेजे हैं.

प्राधिकारियों ने फ्लाई दुबई के विमान हादसे में मारे गए केरल के युवा दंपत्ति श्याम मोहन और उनकी पत्नी अंजू के शवों की पहचान के लिए डीएनए जांच की खातिर उनके संबंधियों के रक्त के नमूने सोमवार को रूस भेजे हैं.

शनिवार को तड़के रूस के रोस्तोव ऑन दोन शहर में उतरते हुए दुबई एयरलाइन फ्लाई दुबई का बोइंग 737 विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इस हादसे में मारे गए 62 लोगों में श्याम मोहन और उनकी पत्नी अंजू भी शामिल थे.

मोहन के एक करीबी संबंधी ने बताया कि एर्नाकुलम जिला प्रशासन के स्वास्थ्य अधिकारियों के एक दल ने कल रात उनके अभिभावकों और अंजू की मां तथा उसके भाई के रक्त के नमूने डीएनए जांच के लिए एकत्र किए.

उन्होंने बताया ‘सोमवार सुबह रक्त के नमूने दिल्ली भेज दिए गए. वहां से इन्हें विदेश मंत्रालय के माध्यम से रूस भेजा जाएगा.’

परिजनों ने बताया कि उन्हें बताया गया कि यात्रियों तथा विमान के चालक दल के सदस्यों के पार्थिव अवशेषों के साथ डीएनए का मिलान किया जाएगा ताकि शवों की पहचान हो सके.
 

मोहन और अंजू एर्नाकुलम जिले के पेरूम्बवूर के समीप वेंगोला गांव के निवासी थे और रूस में एक आयुव्रेदिक स्पा में थेरेपिस्ट के तौर पर काम करते थे.

अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार और लोकसभा सांसद इन्नोसेंट दंपत्ति का शव केरल लाने के लिए औपचारिकताएं पूरी करने की खातिर विदेश मंत्रालय से संपर्क बनाए हुए हैं.

रविवार को विभिन्न लोगों ने पीड़ित परिवार से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी.

मोहन के परिवार में उनके अभिभावक और बहन हैं जबकि अंजू के परिवार में मां और भाई हैं. यह जोड़ा केरल में दो माह की छुट्टियां बिताने के बाद बृहस्पतिवार की रात को कोच्चि से रूस रवाना हुआ था.

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>