ताजमहल के लिए 400 साल तक संरक्षित करने की योजना बनाए योगी सरकार: सुप्रीम कोर्ट

Dec 09, 2017
ताजमहल के लिए 400 साल तक संरक्षित करने की योजना बनाए योगी सरकार: सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कौर्ट ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सरकार को ताजमहल और इसके आसपास के पर्यावरण को सुरक्षित व संरक्षित रखने के लिए एक ऐसी सर्वागीण योजना बनाने को कहा जो इस ऐतिहासिक धरोहर को एक पीढ़ी के लिए नहीं बल्कि अगले 400 साल तक सहेज कर रख सके।

बता दें कि यह निर्देश जस्टिस मदन बी.लोकुर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने दिया। पीठ ने इसके साथ ही ताजमहल और इसके आसपास के पर्यावरण के संरक्षण के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए और उठाए जाने वाले कदमों को ‘तदर्थ’ करार दिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एडहॉक प्लान से काम नहीं बनेगा। कोर्ट ने कहा कि जो पेड़ आप लगाते है उसमें से 75 फ़ीसदी मर जाते है, ऐसे में पेड़ लगाने का क्या फायदा।

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: विधायक के भतीजे से शादी के लिए इस लड़की ने गुजारी कई रातें, 2 बार कराया अबॉर्शन

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि स्मारक को महज किसी एक पीढ़ी के लिए नहीं बल्कि अगले 300 से लेकर 400 साल तक संरक्षित किया जाना चाहिए। अदालत ने तुषार मेहता की दलीलों के जवाब में कहा कि किसी नौकरशाही योजना की नहीं बल्कि एक सर्वागीण योजना बनाने की जरूरत है। कोई जल्दी नहीं है। अभी एक अंतरिम रिपोर्ट दी जा सकती है। आपको जो चीज बनानी है, वह चार सौ सालों तक बनी रहने वाली है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>