सिर्फ एक खास तबके के लोगों को ही परेशान कर रही योगी सरकार: मौलाना कल्बे जव्वाद

Mar 29, 2017
सिर्फ एक खास तबके के लोगों को ही परेशान कर रही योगी सरकार: मौलाना कल्बे जव्वाद

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनते ही अवैध बूचड़खानों और मीट की दुकानों पर कार्यवाही जारी है। यूपी के बाद अब जल्द ही अन्य भाजपा शासित राज्यों में भी अवैध बूचड़खानों और मीट की दुकानों पर कार्यवाही होने की संभावनाएं हैं।

अवैध बूचड़खाने और गैर लाइसेंसी दुकानों के खिलाफ पुलिस की कार्यवाही की वजह से मीट कारोबारी हड़ताल पर है। जिनके पास लाइसेंस हैं लेकिन रेन्युवल नहीं हुआ हैं। पुलिस के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग की कार्यवाही के डर से मटन और चिकन दुकानदारों ने भी अपनी दुकानें बंद कर रखी हैं। इसका सीधा असर मांस व्यापार के साथ साथ रोजगार पर भी दिख रहा है।

इस मामले में प्रमुख शिया आलिम मौलाना कल्बे जव्वाद का कहना है कि पुलिस बिना किसी आदेश के छोटे मीट कारोबारियों और व्यापारियों पर कार्यवाही कर रही है, जिससे एक खास श्रेणी के लोग परेशान हैं। दरअसल बूचड़खानों पर पुलिस की कार्यवाई से डरे हुए लाइसेंसधारी मांस कारोबारियों का कारोबार ही नहीं बल्कि होटलों पर काम करने वालों के रोजगार भी ठप हो गए है।

वहीं विभाग के अधिकारी जो लाइसेंस जारी करते है वो खुद मानते है कि अधिकांश मांस कारोबारियों के पास लाइसेंस हैं लेकिन रेन्युवल न होने से सरकारी विभागों और पुलिस कार्यवाही के निशाने पर हैं। वही लाइसेंस वाले दुकानदार अवैध बूचड़खाने और दुकानों के खिलाफ पुलिस की कार्यवाही का समर्थन कर रहे है। लेकिन लाइसेंस विक्रेताओं को भी परेशान किए जाने से डरे है। और सरकार से लाइसेंस प्रणाली में सुधार किए जाने की मांग कर रहे हैं।

मंच के अध्यक्ष डॉ अम्मार रिजवी ने कहा है कि जहां कहीं नियमों का उल्लंघन हो रहा है वहाँ प्रतिबंध ज़रूर लगाई जाए लेकिन अनावश्यक रूप से लोगों को परेशान भी न किया जाए। कहा की जल्द ही फॉर्म के प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री से मिलकर उन्हें पूरी स्थिति से अवगत कराएगा।

वहीं मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में मांस व्यापारियों के साथ नाइंसाफी हो रही है। बिना किसी आदेश के पुलिस छोटे मांस विक्रेताओं और व्यापारियों पर कार्रवाई कर रही है जिस से एक श्रेणी के लोग परेशान

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>