योगी सरकार ने मुस्लिम त्यौहारों की छुट्टियां को कम करने का दिया निर्देश

Jan 03, 2018
योगी सरकार ने मुस्लिम त्यौहारों की छुट्टियां को कम करने का दिया निर्देश

योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रदेश के मदरसों ने नए साल 2018 का वार्षिक केलेंडर जारी किया है। जिसमें योगी सरकार ने मदरसों के लिए मुस्लिम त्योहारों की छुटियों को कम कर दिया है। क्योंकि मुहर्रम के मौके पर दी जाने वाली दस छुट्टियों को घटाकर चार कर दिया गया है।

बता दें कि योगी सरकार की तरफ से जारी किए गए वार्षिक कैलेंडर में मुस्लिम त्योहारों के दौरान छुट्टियां कम करने के फैसले पर सरकार मदरसों में नाराजगी जताई जा रही है। क्योंकि अब तक उत्तर प्रदेश के मदरसों में मुस्लिम त्योहारों के अलावा होली और आंबेडकर जयंती पर ही छुट्टी रखी जाती थी, लेकिन इस नए कैलेंडर में महावीर जयंती, बुद्ध पूर्णिमा, रक्षाबंधन, महानवमी, दशहरा, दिवाली और क्रिसमस की भी छुट्टी रखी गई हैं। इसके अलावा ईद-उल-जुहा और मुहर्रम की 10 छुट्टियों को घटाकर 4 दिन कर दिया गया है।

इस बारे में उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता ने इस पर सफाई देते हुए बताया कि, ‘पहले मदरसों के विवेक के आधार पर 10 दिन की छुट्टियां थीं, लेकिन अब यह पूर्व निर्धारित है और इसमें कई महापुरुषों की जयंती पर भी छुट्टियां रखी गई हैं। छात्रों के लिए इन लोगों के बारे में जानना भी जरूरी है।’

सरकार के इस फैसले को लेकर मुस्लिम धार्मिक नेता नाखुश हैं। इस्लामिक मदरसा मॉडर्नाइजेशन टीचर्स एसोसिएशन के प्रमुख एजाज अहमद का कहना है कि मदरसा एक धार्मिक संस्था है, इसलिए यहां अलग तरह से छुट्टियों की व्यवस्था की गई है। उनके मुताबिक अन्य समुदायों के त्योहारों पर अवकाश देना सही है, लेकिन इस्लामिक त्योहारों के मौकों पर छुट्टियां कम करना ठीक नहीं है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>