योगी ने जावीद अहमद को DGP पद से हटा, सुलखान सिंह को यूपी का नया DGP बनाया

Apr 22, 2017
योगी ने जावीद अहमद को DGP पद से हटा, सुलखान सिंह को यूपी का नया DGP बनाया

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने जावीद अहमद को डीजीपी पद से हटा दिया है। सुलखान सिंह को प्रदेश का नया डीजीपी बनाया गया है। प्रदेश सरकार ने पुलिस मशीनरी में महत्वपूर्ण फेरबदल करते हुए 12 आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया है।

जावीद अहमद को सपा सरकार के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश का डीजीपी बनाया गया था। प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद से ही उनके हटाए जाने के कयास लगाए जा रहे थे। सुलखान सिंह 1980 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं।

इसके साथ ही राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चैधरी का भी तबादला कर दिया गया है। जावीद अहमद को डीजी पीएससी बनाया गया है वहीं दलजीत चैधरी की जगह आदित्य मिश्रा को नया एडीजी लॉ एंड ऑर्डर बनाया गया है।

जावीद की जगह लाए गए 59 वर्षीय सुलखान सिंह 1980 कैडर के अधिकारी हैं। मूल रूप से प्रदेश के बांदा से सम्बन्ध रखने वाले नये डीजीपी ने इंजिनियरिंग और वकालत पढ़ी है। प्रदेश के सबसे सीनियर सुलखान सिंह का चार महीने बाद ही रिटायरमेंट हैं। मालूम हो कि जावीद सपा सरकार में 15 अफसरों को सुपरसीड करके डीजीपी बने थे। अहमद का कार्यकाल मार्च 2020 तक था।

सुलखान सिंह अभी तक डीजी ट्रेनिंग के पद पर तैनात थे। इसके अतिरिक्त पुलिस भर्ती बोर्ड के अध्यक्ष और डीजी अभियोजन के पद पर तैनात डॉ. सूर्य कुमार को डीजी अभियोजन के पद से मुक्त कर दिया गया है। वे अब पुलिस भर्ती बोर्ड के अध्यक्ष पर बने रहेंगे। डॉ. कुमार 1982 बैच के अधिकारी हैं।

इसके अलावा 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी जवाहर लाल त्रिपाठी को पुलिस महानिदेशक अभिसूचना मुख्यालय से हटाकर पुलिस महानिदेशक अभियोजन बनाया गया है। इसी प्रकार 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी आलोक प्रसाद को पुलिस महानिदेशक, होमगार्डस के साथ-साथ पुलिस महानिदेशक, प्रशिक्षण मुख्यालय का कार्यभार भी दे दिया गया है।

1987 के बैच आईपीएस अधिकारी भवेश कुमार सिंह को एडीजी सुरक्षा के पद से हटाकर एडीजी अभिसूचना के पद पर तैनात किया गया है। इसी प्रकार 1988 बैच के अफसर विजय कुमार को एडीजी, एटीसी सीतापुर के पद से हटाकर एडीजी सुरक्षा के पद पर तैनात किया गया है।

इसी प्रकार से 1995 बैच के प्रतिक्षारत आईजी आलोक सिंह को आईजी पीएसी ईस्टर्न जोन बनाया गया है। 1993 बैच के आईपीएस अधिकारी संजय सिंघल को आईजी, डीजी ऑफिस के पद से हटाकर आईजी पीएसी मध्य जोन बनाया गया है। जबकि 1996 बैच के आईपीएस अफसर नवनीत सिकेरा को आईजी, पीएसी मध्य जोन के पद से मुक्त कर दिया गया है। सिकेरा आईजी वुमन पॉवर लाइन, लखनऊ बने रहेंगे।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>