इस गांव के लोग करेंगे चुनाव एवं वोटो का पूर्ण बहिस्कार

Nov 24, 2016
इस गांव के लोग करेंगे चुनाव एवं वोटो का पूर्ण बहिस्कार

देश को आज़ाद हुए वर्षों बीत गए फिर भी अँधेरे में जिंदगी काट रहे बुंदेलखंड के झाँसी जिले के मनकपुरा ग्रामवासी आगामी विधान सभा चुनाव में वोट नहीं डालेंगे। विधान सभा गरौठा का यह गाँव आज़ादी के बाद से लेकर अब तक बिजली के लिए तरस रहा है। अफसर राजनीतिक पार्टियां राजनेता सरकारी महकमे के विकास के सारे दावे इस गाँव में आकर जूठे साबित हो जाते हैं। झाँसी जिले के कई और गाँव भी इस तरह के बिजली के बिना ही जिंदगी काट रहे हैं। आने वाले 2017 के विधान सभा चुनाव के लिए सभी राजनैतिक दलों ने पूरी तैयारी कर ली है। नेताओं को दिखाने के लिए आइना लेकर तैयार बैठी है। झाँसी जिले के गरौठा विधान सभा का गाँव मनकपुरा इस विधान सभा चुनाव में नेताओं के लिये सिर पराहनी का सबब बनने जा रहे हैं । गाँव के लोगों ने कसम खा ली है कि वे विधान सभा चुनाव में वोट नहीं करेंगे ।

मनकपुरा गाँव झाँसी जिले के गरौठा विधान सभा का एक पिछड़ा गावँ है। गरौठा विधान सभा क्षेत्र अपने आप मैं अलग है। इस क्षेत्र के वर्तमान विधायक दीप नारायण सिंह यादव समाजवादी पार्टी से दूसरी बार विधायक हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बेहद करीबी माने जाते हैं। इससे पहले इस सीट पर कांग्रेस के नेता राजा रणजीत सिंह जूदेव विधायक हुआ। करते थे और वे इस सीट पर कई दशक तक विधायक रहे। जूदेव प्रदेश सरकार में मंत्री भी रहे थे।

आज़ादी के बाद भी अँधेरे में जिंदगी काट रहा ग्राम मनकपुरा ग्राम पंचायत सौजना का के अंतर्गत आता है। गाँव के रामस्वरूप कहते हैं कि अब विधानसभा चुनाव हो या कोई और चुनाव, उनके लिए किसी चुनाव का कोई मतलब नहीं। उनके गांव में ना तो कोई नेता आता है ना ही अधिकारी गाँव के लोग पिछले वर्षों से बिजली की मांग कर रहे हैं लेकिन कोई सुनता नहीं अब ग्रामवासियों ठान लिया है कि वे आगामी विधान सभा चुनाव में वोट नहीं डालेंगे। गाँव के ही रहने वाले रामबाबू कहते हैं कि मनकपुरा की आबादी 800 के आसपास है। लेकिन गांव और ग्रामवासियों की चिंता किसी को नहीं है। यदि इस गाँव में बिजली उपलब्ध नहीं कराया गया तो लोग विधानसभा चुनाव में वोट नहीं डालेंगे।

मनकपुरा गाँव की रहने वाली सरस्वती कहती हैं कि गाँव के लोग अब वोट तभी डालेंगे, जब गाँव में बिजली आ जाएगी। पूर्व प्रधान भरत सिंह बुंदेला भी गाँव के लोगों की सुर में सुर मिलाते हुए दिखाई देते हैं। वे कहते हैं कि अब गाँव के लोग विधान सभा चुनाव में अपना मतदान तभी करेंगे जब गाँव में बिजली की व्यवस्था कर दी जाये।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>