65 की उम्र में होंगे रिटायर अब सरकारी डाक्टर

May 27, 2016

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सहारनपुर में गुरुवार को देश में सरकारी डाक्टरों की सेवानिवृत्ति की आयु 62 से बढ़ाकर 65 साल करने का एलान किया.

केंद्र में भारतीय जनता पार्टी नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार के दो साल पूरे होने के उपलक्ष्य में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में आयोजित विकास पर्व रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में डाक्टर कम हैं.

उन्होंने कहा कि अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नियम हैं. अवकाश ग्रहण करने की उम्र कहीं 60 वर्ष और कहीं 62 वर्ष है. वह आज इस रैली में पूरे देश में सरकारी अस्पताल में काम कर रहे डाक्टरों के अवकाश ग्रहण करने की उम्र 65 वर्ष करने की घोषणा करते हैं. इस सम्बन्ध में इसी सप्ताह उनके मंत्रिमंडल की बैठक में निर्णय ले लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें :-  बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती का राज्यसभा से इस्तीफा मंजूर! फिर दिया उन्होंने बड़ा बयान..

मोदी ने कहा कि डाक्टरों की कमी को दो वर्ष में पूरा नहीं किया जा सकता लेकिन वह इस पर काम कर डाक्टरों की संख्या हर हाल में बढाने की कोशिश करेंगे.

उन्होंने डाक्टरों से अपील की कि हर महीने की नौ तारीख को डाक्टर गरीब प्रसूता की मुफ्त में जांच व इलाज करें. प्रसूति के समय कभी-कभी मां की अकाल मौत भी हो जाती है. देश के एक करोड़ लोग यदि गैस पर सब्सिडी छोड सकते हैं तो डाक्टर साल में 12 दिन गरीब प्रसूता का मुफ्त में इलाज क्यों नहीं कर सकते. इससे गरीब मां की मृत्यु नहीं होगी.

ये भी पढ़ें :-  डीएम कंवल तनुज का विवादित बयान कहा: सभी गरीब लोग अपनी बीवियां बेच दो, और उसने..

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले यदि ज्यादा मेडिकल कालेज बने होते तो डाक्टरों की कमी नहीं होती. उनकी सरकार इस दिशा में काम कर रही है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>