इसने किए है तीन घर बर्बाद अकेला क्यों मरे, इसे भी साथ लेकर मरे

Jul 22, 2016

जोधपुर। राजस्थान में चूरू जिले के सुजानगढ़ में रहने वाले एक युवक ने यहां एक होटल में अपनी प्रेमिका की चाकू से गला काट कर हत्या कर दी और खुद फंदे पर झूल गया। खुदकुशी से पहले उसने प्रेमिका के जीजा को सुसाइड नोट वॉट्सऐप पर भेजा।

कैसे शुरू हुई ये लव स्टोरी…
पुलिस के अनुसार, होटल गैलेक्सी में प्रेमी महेंद्र प्रसाद सोनी अपनी प्रेमिका अंजू देवी के साथ बुधवार दोपहर होटल में आकर ठहरा था। गुरुवार शाम को होटल के स्टाफ के कई बार रूम में फोन करने के बाद भी नहीं उठाने पर दरवाजा खुलवाया तो दोनों मृत मिले। अंजू का गला कटा हुआ था और पास में ही चाकू पड़ा था। महेंद्र फंदे पर झूला हुआ था। पुलिस को मौके से महेंद्र का पांच पेज का सुसाइड नोट भी मिला।

ये भी पढ़ें :-  शाह का यूपी में 90 सीटें जीतने का दावा षड्यंत्र : मायावती

महेंद्र ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि करीब दो साल पहले अंजू सुजानगढ़ में ब्यूटी पार्लर चलाती थी। ब्यूटी पार्लर के पास ही उसका ई-मित्र था। अंजू शादीशुदा और दो बेटियाें की मां थी। दोनों के बीच प्रेम-संबंध हो गए तो अंजू अपने पति को तलाक देकर उसके साथ शादी करने की बात कहती रही। कुछ महीनों पहले वह पति से अलग भी रहने लग गई। इस पर महेंद्र ने शादी के लिए कहा, लेकिन वह टालती रही।

महिला ने की दूसरी शादी
करीब दो माह पहले अंजू ने विदेश में रहने वाले झुंझुनूं के सुरेश नाम के युवक से शादी कर ली। हालांकि वह महेंद्र से कहती रही कि उसका पति तो विदेश में रहेगा, ऐसे में वे दोनों साथ में ही रहेगी। महेंद्र को यह बात गवारा नहीं हुई। उसे लगा कि अंजू उसके प्यार का मजाक बना रही है तो उसने खुदकुशी करने का फैसला कर लिया। साथ ही सोचा कि उसने तीन घर तो खराब कर दिए, किसी और का घर खराब न करे इसलिए अकेला क्यों मरे, उसे भी मार देगा। इस पर वह अंजू को घुमाने का झांसा देकर बुधवार को जोधपुर ले आया। उसने पहले लड़की का गला चाकू से काट डाला फिर खुद फंदे पर लटक गया।

ये भी पढ़ें :-  गरीब सवर्णो को भी आरक्षण मिलना चाहिए : मायावती

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected