जब में सड़कों पर नमाज पड़ने से नहीं रोक सकता, तो थानों में जन्माष्टमी क्यों रोकूं?

Aug 17, 2017
जब में सड़कों पर नमाज पड़ने से नहीं रोक सकता, तो थानों में जन्माष्टमी क्यों रोकूं?

उत्तर प्रदेश। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुस्लिमों की नमाज़ को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि ”अगर मैं सड़क पर ईद के दिन नमाज पढ़ने पर रोक नहीं लगा सकता तो मुझे कोई अधिकार नहीं कि मैं थानों में जन्माष्टमी के पर्व को रोकूं।” दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपना ये बयान पिछली सरकार से जोड़कर दिया। योगी ने कहा कि ‘समाजवादी पार्टी के लोग जो खुद को यदुवंशी कहते हैं, उन्होंने पुलिस स्टेशन और पुलिस लाइंस में जन्माष्टमी के आयोजनों पर रोक लगाई थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ये बयान लखनऊ में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दिया। इस दौरान योगी ने कांवड़ यात्रा का जिक्र करते हुए कहा कि, ”कांवड़ यात्रा के दौरान अधिकारियों ने मुझे बताया कि डीजे और म्यूजिक सिस्टम के इस्तेमाल पर बैन है। मैंने कहा कि ये कांवड़ यात्रा है या शव यात्रा? अरे कांवड़ यात्रा में बाजे नहीं बजेंगे, डमरू नहीं बजेगा, ढोल नहीं बजेगा, चिमटे नहीं बजेंगे, लोग नाचेंगे नहीं, माइक नहीं बजेगा तो वो यात्रा कांवड़ यात्रा कैसे होगी?”

ये भी पढ़ें :-  क्या बुलेट ट्रेन के कर्ज का ब्याज चुकाने के लिए बढ़ी है पेट्रोल-डीजल की कीमत?: शिवसेना
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>