व्‍हाट्सएप पर चल रहा था सेक्‍स रैकेट, ऑनलाइन होती थी लड़कियों की सप्‍लाई

May 30, 2016
सोशल नेटवर्किंग के विभिन्‍न माध्‍यमोंं में से सबसे लोकप्रिय व्हाट्सएप सिर्फ दोस्‍तों और परिचितों के बीच बातचीत का माध्‍यम ही नहीं रह गया है। बल्कि इसके माध्‍यम से कई गलत धंधे भी हो रहे हैं। उत्‍तराखंड में भी ऐसा ही हाेे रहा था।
देहरादून के पटेल नगर में व्हाट्सएप के माध्‍यम से सेक्‍स रैकेट चल रहा था। व्हाट्सएप से ही लोगों को लड़कियों की तस्‍वीरें भेजी जाती थीं। इसी  पर रेट तय होते थे। जगह डिसाइड की जाती थी। जिस्‍मफरोशी के पूरे धंधे की डील व्हाट्सएप पर ही होती थी। लंबे समय से चले आ रहे इस सेक्‍स रैकेट का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। खास बात यह कि पुलिस ने भी इस सेक्‍स रैकेट को पकड़ने के लिए व्‍हाट्सएप को ही जरिया बनाया।
पुलिस को कुछ दिनों से सूचना मिल रही थी कि व्‍हाट्सएप के माध्‍यम से सेक्‍स रैकेट चलाया जा रहा है। पुलिस ने इसके पकड़ने के लिए योजना तैयार की। सबसे पहले एक सिपाही को ग्राहक बनाकर रैकेट के सरगना गोविंद के पास भेजा। सिपाही ने पहले लड़कियां देखनेे की बात की।
इस पर गोविंद ने सिपाही के मोबाइल पर कई खूबसूरत युवतियों की फोटो भेजी। पुलिस ने पूरी प्रक्रिया को व्‍हाट्सएप पर रिकार्ड भी किया और बातचीत को भी सुरक्षित कर लिया।  इसके बाद एसएसपी को सूचना दी गई।
एसएसपी ने एएसपी तृप्ति भट्ट को कार्रवाई करने का निर्देश दिया। पुलिस ने पूरी तैयारी के साथ उस जगह छापा मारा जिस फ्लैट में यह धंधा चल रहा था। कमरे में एक युवक व युवती आपत्तिजनक हालत में मिले, जबकि मौके से दो मोबाइल सेट भी बरामद किए गए। पुलिस ने जब मोबाइल चेक किए तो सेक्स रैकेट के धंधे के तरीकों समेत कई चेहरे बेनकाब हुए जो जिस्मफरोशी के धंधे में उतरी युवतियों के साथ रंगरेलियां मना चुके थे। मामले में पुलिस ने पांच युवतियों समेत सात लोगों पर अनैतिक देह व्यापार अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
ये भी पढ़ें :-  दो समुदायों के बीच हिंसा भड़काने के मामलें में पुलिस ने सीएम योगी से मांगी उनके ही खिलाफ एक्शन की इजाजत
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>