आज हमारी बदौलत जिन्दा है नरेंद्र मोदी, मैं न होता तो कबके मार दिए गए होते: डीजी वंजारा

Oct 18, 2016
आज हमारी बदौलत जिन्दा है नरेंद्र मोदी, मैं न होता तो कबके मार दिए गए होते: डीजी वंजारा

ये वही डीजी वंजारा है जो गुजरात में जून 2004 के इशरत जहां, सोहराबुद्दीन और तुलसीराम प्रजापति कथित फेक एनकाउंटर केस में मुख्य आरोपी रहे हैं। वे 9 साल जेल में गुजारने के बाद कुछ महीने पहले रिहा हुए हैं। गुजरात के पूर्व डीआईजी भी रह चुके है। भावनगर में नागरिक सम्मान समिति के इस समारोह में वंजारा ने कहा, अगर आज नरेंद्र मोदी जिन्दा है तो वो हमारी बदौलत, आतंकियों ने गुजरात को कश्मीर बनाने का पूरा प्लान बना रखा था। हमने कानून की सीमा में रहकर वह सब कुछ किया, जो देश के हित में था।

वंजारा ने कहा कि जेल में मैंने कसरत कर अपने शरीर को मजबूत बनाया है। वहां किए गए तप से प्राप्त शक्ति का इस्तेमाल देश के कल्याण और रक्षा के लिए करूंगा। गुजरात में अब तक वंजारा और उनकी टीम का यह 31वां सम्मान समारोह था। वंजारा ने जेल का ज्यादा वक्त साबरमती जेल में काटा। एक साल वे मुंबई जेल में भी रहे।

ये भी पढ़ें :-  सुहागरात पर पति ने कहा-वर्जिनिटी टेस्ट कराओ, नहीं तो घर से भागो

सर्जिकल स्ट्राइक पर वंजारा ने कहा, जो लोग सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगते है उन्हें स्ट्राइक के समय सबसे आगे रखना चाहिए। देश की संस्कृति के लिए जो भी संभव होगा, हम करेंगे। जरूरत पड़ने पर जान भी देने में पीछे नहीं हटेंगे।’

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected