हॉट योग गुरु बिक्रम चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट..

May 26, 2017
हॉट योग गुरु बिक्रम चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट..

लॉस एंजेलिस के एक न्यायाधीश ने योग गुरू बिक्रम चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। चौधरी पिछले साल अपनी पूर्व वकील को 70 लाख डॉलर का भुगतान करने में असफल रहे। वकील ने उनके खिलाफ यौन शोषण का आरोप भी लगाया था।

‘एबीसी न्यूज’ की रिपोर्ट के अनुसार, योग गुरू चौधरी ने वकील को 70 लाख डॉलर का भुगतान नहीं किया और अधिकारियों का मानना है कि चौधरी ने अपनी संपत्ति छिपा दी थी और देश छोड़कर चले गए थे।

योग गुरू चौधरी (69) ने पिछले साल दावा किया था कि उनका व्यवसाय अब नहीं चल रहा और वह दिवालिया होने की कगार पर हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, लॉस एंजेलिस के न्यायाधीश द्वारा जारी किए गए वारंट के तहत अगर चौधरी अमेरिका लौटते हैं या फिर शायद मेक्सिको में भी, तो अधिकारी उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें :-  माहिरा के साथ वायरल हो रही तस्वीरों पर रणबीर ने तोड़ी चुप्पी, दिया ऐसा जवाब..

पिछले साल जनवरी में एक जूरी ने कहा था कि चौधरी ने अपनी वकील रहीं मीनाक्षी जाफा-बोडेन का शारीरिक शोषण किया और उसके बाद उन्हें गलत तरीके से नौकरी से निकाल दिया।

चौधरी को इस मामले में वकील को 65 लाख डॉलर का भुगतान करने के लिए कहा गया था। इसके अलावा 924,00 अलग से मुआवजे के तौर पर देने के लिए कहा गया।

मीनाक्षी, चौधरी के ‘योग कॉलेज ऑफ इंडिया’ की वकील थीं, लेकिन उन्हें इसलिए नौकरी से निकाल दिया गया क्योंकि उन्होंने एक योग छात्रा द्वारा चौधरी पर लगाए गए दुष्कर्म के आरोप पर पर्दा डालने से मना कर दिया था।

ये भी पढ़ें :-  अभिनेत्री कंचन से शराबियों ने सड़क पर कराई उठक-बैठक, ड्राइवर से थप्पड़ भी लगवाए

पिछले साल ‘एबीसी न्यूज’ को दिए एक बयान में मीनाक्षी ने कहा था कि उन्हें खुशी है कि उनकी बात सही मानी गई।

वकील ने न्यायाधीश को बताया कि चौधरी बार-बार उनका शारीरिक शोषण करते रहे और उन पर महिला के खिलाफ अश्लील टिप्पणी करने का दबाव बनाते रहे। इसके अलावा, मीनाक्षी ने यह भी कहा कि जब उन्होंने अन्य महिला के शारीरिक शोषण मामले की जांच करने की कोशिश की, तो उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया।

मीनाक्षी द्वारा दायर किए गए मामले की सुनवाई के दौरान चौधरी ने किसी भी महिला का शारीरिक शोषण करने के आरोपों को खारिज किया। इसके साथ ही उन्होने अपनी किसी भी छात्रा के साथ शारीरिक संबंध रखने की बात से भी इनकार किया।

ये भी पढ़ें :-  हनीप्रीत के पूर्व पति ने शेयर की शादी से हनीमून तक की तस्वीरें, ऐसे हुए थे दोनों अलग

चौधरी ने 1970 के दशक में ब्रेवर्ली हिल्स में एक संस्था की स्थापना की थी और उनके ग्राहकों की सूची में एंडी मरे, मडोना, ग्वेनेथ पाल्ट्रो और गोल्डी हॉर्न जैसे सितारों के नाम भी हैं।

चौधरी के खिलाफ दायर किए गए मामले में मिली जीत से खुश वकील मीनाक्षी ने अदालत परिसर के बाहर कहा, “यह उस हर महिला की जीत है, जो शारीरिक शोषण का शिकार हुई है।”

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>