मोदी सरकार की मंज़ूरी का इंतज़ार: मदरसे के बच्चे भी कर सकेंगे इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी

Aug 21, 2017
मोदी सरकार की मंज़ूरी का इंतज़ार: मदरसे के बच्चे भी कर सकेंगे इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी

मदरसों में मौजूद ‘होनहार बच्चों के लिए मोदी सरकार इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी पर विचार कर रही हैं। मदरसों को मेनस्ट्रीम एजुकेशन से जोड़ने के लिए मोदी सरकार ने ये प्रस्ताव मिनिस्ट्री ऑफ़ माइनॉरिटी अफेयर्स की संस्था ‘मौलाना आजाद शिक्षा प्रतिष्ठान’ (एमएईएफ) के समक्ष रखा गया है। इस मामले में अभी आखिरी फैसला लिया जाना बाकि है। एमएईएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस प्रस्ताव में कहा गया है की मदरसों के बच्चों को इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के लिए अलग-अलग राज्यों में केन्द्र बनाए जाएं। जिसपर अभी विचार-विमर्श चल रहा है और कुछ ही दिनों में इसपर आखिरी फैसला आ सकता है।

ये भी पढ़ें :-  40 साल से बन रहे नहर का टूटा बाँध, आज उद्घाटन करने वाले थे नितीश कुमार

आपको बता दें कि पिछले साल दिसंबर में केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने मदरसा शिक्षा को मुख्यधारा में लाने के लिए सात सदस्यीय विशेषज्ञ समिति का गठन किया था। जिसकी रिपोर्ट पिछले साल मार्च महीने में केंद्र सरकार को सौंप दी गई थी। इस समिति के संयोजक सैयद बाबर अशरफ का कहना है कि उम्मीद करते हैं कि उसे जल्द मंजूरी मिल जाएगी। जिसके बाद अक्टूबर तक इस पर काम शुरू हो जाएगा। इस पूरी कवायद में मदरसों के संचालकों और मुस्लिम समाज की पूरी मदद ली जाएगी क्योंकि हम किसी भी सूरत में धार्मिक शिक्षा के रास्ते में व्यवधान पैदा नहीं करना चाहते। हम चाहते हैं की बच्चों को मेनस्ट्रीम से जुड़ने और एक अच्छा करियर बनाने का मौका मिले।

ये भी पढ़ें :-  पिता के बाद 14 साल के बेटे ने भी की ख़ुदकुशी, फीस के लिए टीचर करते थे परेशान
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>