व्यापमं फर्ज़ीवाड़ा: इस शख्स ने किया था खुलासा, अब मेरोपेनम इंजेक्शन घोटाले की बारी

Sep 02, 2016
व्यापमं फर्ज़ीवाड़ा: इस शख्स ने किया था खुलासा, अब मेरोपेनम इंजेक्शन घोटाले की बारी

मध्य प्रदेश के जयारोग्य अस्पताल ग्वालियर में मेरोपेनम इंजेक्शन घोटाला एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है, क्योंकि इस मामले में अब व्यापमं फर्जीवाड़े के व्हिसल ब्लोअर आशीष चतुर्वेदी कूद गए हैं.
आशीष ने गुरुवार को लोकायुक्त एसपी अमित कुमार सिंह से घोटाले की जांच में हो रही लेटलतीफी पर बात की है. एसपी ने आशीष को जांच में तेजी लाने का आश्वासन दिया है.

जयारोग्य अस्पताल के तत्कालीन अधीक्षक डॉ. एसएन अयंगर ने मेरोपेनम इंजेक्शन की 1 करोड़ 15 लाख रुपए की खरीदी की थी; जिसमें मेरोपेनम इंजेक्शन जैक्शन कंपनी से 211.90 की दर से खरीदा था,
लेकिन उसका भुगतान 385 रुपए की दर से कर दिया था.
इसमें 78 लाख रुपए का अतिरिक्त भुगतान टेंडर रेट से ज्यादा कर दिया था. साथ ही अस्पताल के लिए सर्जीकल उपकरण को 20 गुना रेट से किराए पर लिया थे, जबकि इतनी राशि में नए उपकरण खरीदे जा
सकते थे.

इसमें में भी डॉ. अयंगर ने मनमर्जी से 79 लाख का भुगतान कर दिया गया था. इस दौरान जब ये घोटला उजागर हुआ तो हॉस्पिटल ने इंजेक्शन खरीदने वाली कंपनी से 65 लाख रुपए की रिकवरी कर ली थी,
जिसको लेकर लोकायुक्त पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी.
जब जांच को एक छह महीने से ज्यादा का वक्त गुजर गया तो अशीष ने लोकायुक्त के जांच अधिकारियों पर आरोपियों को लाभ पहुंचने का आरोप लगाया था. साथ ही गुरुवार एसपी से मुलाकत कर जांच में तेजी
लाने की बात कही है.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>