वीरभद्र मामला : एलआईसी एजेंट पर आरोप की सुनवाई 11 अप्रैल को

Mar 08, 2017
वीरभद्र मामला : एलआईसी एजेंट पर आरोप की सुनवाई 11 अप्रैल को

राष्ट्रीय राजधानी की एक अदालत ने आय से अधिक संपत्ति मामले में जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के एजेंट आनंद चौहान के खिलाफ लगे आरोपों पर बहस के लिए 11 अप्रैल की तारीख मुकर्रर की। मामले में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह भी आरोपी हैं। विशेष न्यायाधीश वीरेंद्र कुमार गोयल ने कहा कि दस्तावेजों की जांच करने के बाद 11 अप्रैल से वह मामले की सुनवाई शुरू करेंगे।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने चौहान के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है और उन पर वीरभद्र सिंह के 5.14 करोड़ रुपये के काले धन को वीरभद्र तथा उनकी पत्नी प्रतिभा सिंह सहित परिजनों के नाम पर एलआईसी की पॉलिसियों में निवेश करने का आरोप लगाया है।

ईडी ने प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया था।

जांच में पाया गया था कि वीरभद्र सिंह ने साल 2009 से 2011 के बीच केंद्रीय इस्पात मंत्री रहने के दौरान खुद तथा अपने परिवार के नाम पर 6.03 करोड़ रुपये की संपत्ति इकट्ठा की, जो उनकी आय के प्राप्त स्रोतों से अधिक पाई गई।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>