वीडियो: हिंदूवादी संगठन ने ताज महल में किया शिव चालीसा का पाठ, ताज को बताया ‘तेजोमहालय’

Oct 24, 2017
वीडियो: हिंदूवादी संगठन ने ताज महल में किया शिव चालीसा का पाठ, ताज को बताया ‘तेजोमहालय’

दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताज महल पिछले कुछ दिनों से लगातार विवादों को लेकर सुर्खियों में है। ताज महल पर विवाद कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब एक नया विवाद हिंदूवादी संगठनों ने यहाँ पर शिव चालीसा का पाठ कर खड़ा किया है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ताजमहल दौरे से पहले हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने ताजमहल में शिव चालीसा का पाठ किया। हालांकि केन्द्रीय सुरक्षा औद्योगिक बल (सीआईएसएफ) ने कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया और माफीनामा लिखवाने के बाद ही उन्हें छोड़ा गया। सीएम योगी 26 अक्टूबर को आगरा आ रहे हैं। वह 30 मिनट तक ताजमहल में रहेंगे। उनके आने से तीन दिन पहले सोमवार को अलीगढ़ और हाथरस के हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता ताजमहल पहुंचे। वे अपने साथ कथित रूप से शिव चालीसा लेकर आए थे। ताज महल में पहुंचने के बाद वीडियो प्लेटफॉर्म पर शिव चालीसा का पाठ किया। इसके बाद सीआईएसएफ कर्मियों ने उन्हें पकड़ लिया।

ये भी पढ़ें :-  शर्मनाक: गौरक्षा के नाम पर दलितों की बेरहमी से की गई पीटाई, घरों में की गई तोड़फोड़

हिन्दू युवावाहिनी के अलीगढ़ के महानगर अध्यक्ष भारत गोस्वामी ने कहा कि “हिंदूवादी सरकार में ‘तेजोमहालय’ में पूजा से रोका गया है। सोमवार को शिव की पूजा की जाती है, इसलिए ‘तेजोमहालय’ में शिव चालीस का पाठ किया।” वहीं इस संबंध में अधीक्षण पुरातत्वविद् (आगरा) विक्रम भुवन से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि ताजमहल में हर किसी का मोबाइल तो चेक नहीं किया जाता। उक्त लोग मोबाइल में कुछ देख रहे थे। इस दौरान सीआईएसएफ कर्मियों ने उन्हें देख लिया और उसी ने बताया कि वे उक्त पाठ कर रहे हैं। बाद में इन लोगों द्वारा अपनी गलती स्वीकारने के बाद सीआईएसएफ ने उन्हें छोड़ दिया। इन लोगों के पास कोई किताब नहीं थी।

ये भी पढ़ें :-  छेड़छाड़ से तंग बहनों ने खून से लिखा पीएम मोदी को खत, लगाई सुरक्षा की गुहार

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ताजमहल पर विवादों का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। जिस की शुरुआत बीजेपी विधायक संगीत सोम के बयान से हुई थी। जिन्होंने ताजमहल को हिंदुओं पर जुल्म ढाने वाले ‘गद्दारों’ द्वारा निर्मित बताया था और इसको भारतीय संस्कृति पर ‘धब्बा’ कहा था। इसके बाद भाजपा नेता विनय कटियार ने विश्व धरोहर ताजमहल को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने बयानबाजी को एक नया मोड़ देते हुए कहा था कि ताजमहल तो शिव मंदिर ‘तेजो महल’ है, जिसे शाहजहां ने मकबरे में तब्दील कर दिया।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>