उप्र चुनाव : चौथे चरण का प्रचार थमा, मतदान 23 फरवरी को

Feb 21, 2017
उप्र चुनाव : चौथे चरण का प्रचार थमा, मतदान 23 फरवरी को

उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार का शोर मंगलवार की शाम थम गया। चौथे चरण में 12 जिलों की 53 सीटों पर मतदान होना है।

इस चरण में कांग्रेस की गढ़ मानी जाने वाली रायबरेली के साथ-साथ प्रतापगढ़ और इलाहाबाद के अलावा बुंदेलखंड क्षेत्र में भी मतदान होना है।

चौथे चरण में प्रतापगढ़ की कुंडा की सीट हमेशा की तरह से इस बार भी चर्चा में है। एक बार फिर बाहुबली निर्दलीय उम्मीदवार रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया और रायबरेली से बाहुबली विधायक अखिलेश सिंह की बेटी अदिति सिंह कांग्रेस के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं।

कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी की बेटी आराधना मिश्रा और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रेवती रमण सिंह के बेटे उज्ज्वल रमण सिंह और बसपा से भाजपा में गए स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कर्ष मौर्य भी चुनाव मैदान में हैं।

तीसरे चरण के मतदान के बाद से सभी पार्टियों के स्टार प्रचारकों ने पूरे दमखम के साथ चौथे चरण के लिए प्रचार किया है। अलग-अलग दलों के दिग्गज नेताओं ने जनसभाएं कर मतदाताओं को रिझाने की कोशिश की है।

चौथे चरण में प्रतापगढ़, इलाहबाद, कौशांबी, रायबरेली, जालौन, झांसी, ललितपुर, महोबा, हमीरपुर, बांदा, फतेहपुर और चित्रकूट में 23 फरवरी को मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे।

इस चरण में कम से कम 680 प्रत्याशी मैदान में हैं। इलाहबाद की उत्तरी सीट से सबसे अधिक 26 प्रत्याशी मैदान में हैं।

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इलाहाबाद में रोड शो किया।

वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में सपा को 53 में से 24 सीटें मिली थीं। बसपा 15 सीटों के साथ दूसरे पायदान पर रही, कांग्रेस छह सीटें लेकर तीसरे स्थान पर रही, जबकि भाजपा पांच सीटों के साथ चौथे स्थान पर रही। पीस पार्टी को तीन सीटें मिली थीं।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>