UP की सरकार चलाना आसान नहीं कांग्रेस के लिए

Jul 19, 2016
लखनऊ. यूपी की सत्‍ता में 27 साल बाद भी वापसी के लि‍ए बेचैन कांग्रेस ने रवि‍वार को अपने बड़े लीडर को रोड शो में उतारा। इसका मकसद यहां 2017 में होने वाले चुनाव में मैदान-ए-जंग जीतना था, लेकि‍न इन नेताओं के सामने समय की कमी आ गई। इसलि‍ए सोमवार को संसद के मानसून सत्र को लेकर वे महज 12 घंटे में ही यहां से रि‍टर्न हो गए। ऐसे में गुलाम नबी आजाद की टीम की सफलता में संदेह के बादल उमड़ रहे हैं।
इन नेताओं को इसलि‍ए जाना पड़ा
संसद के मानसून सत्र के चलते सोमवार से संसद सत्र शुरू होना था। इसलि‍ए बीते रवि‍वार को
मानसून सत्र की तैयारि‍यों को लेकर गुलाम नबी आजाद नहीं आए थे।
राजबब्‍बर उत्‍तराखंड से राज्‍यसभा सांसद हैं, इसलि‍ए यूपी से ज्‍यादा संसद की कार्रवाई में हि‍स्‍सा लेना था।
प्रमोद ति‍वारी यूपी से राज्‍यसभा सांसद हैं, इसलि‍ए उन्‍हें भी कार्रवाई का हि‍स्‍सा बनना था।
संजय सिंह भी सांसद होने की वजह से यूपी से रि‍टर्न हो गए।
 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>