यूपी: बीएसपी-एआईएमआईएम के गठबंधन की तैयारियां शुरू, कभी भी हो सकती है घोषणा

Oct 05, 2016
यूपी: बीएसपी-एआईएमआईएम के गठबंधन की तैयारियां शुरू, कभी भी हो सकती है घोषणा

उत्तर प्रदेश के सियासी गलियारों में इस बात की हलचल है की बीएसपी का एआईएमआईएम से गठबंधन हो चुका है और सिर्फ घोषणा बाकी है। खबर यह है की माजवादी पार्टी के मुस्लिम ध्रुवीकरण को तोड़ने के लिए मायावती एआईएमआईएम के साथ मिलकर लड़ने को तैयार हो गई हैं। एआईएमआईएम भी यूपी में अपनी पार्टी का विस्तार करने के लिए यह फैसला किया है। अगर ऐसा होता है तो दलित-मुस्लिम वोट मिलकर प्रदेश में नई सरकार के गठन का समीकरण बदल सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक, बीएसपी प्रमुख मायावती ने अपनी पार्टी के पदाधिकारियों को गुप्त रूप से इस नए गठबंधन की जानकारी दी है. हालांकि गठबंधन तय होने से कुछ दिन पहले ही बीएसपी ने प्रदेश की कई सीटों पर अपने प्रत्याशी भी घोषित कर दिए।

एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने यूपी की कुछ सीटों पर 2017 के विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नामों की घोषणा अभी से कर दी है। जो सीटें एआईएमआईएम को दी जाएंगी, बीएसपी से गठबंधन होने पर बीएसपी अपने प्रत्याशी को हटा लेगी।

अनुमान यह है की अगर बीएसपी-एआईएमआईएम से गठबंधन करती है तो समाजवादी पार्टी के लिए एक कड़ी चुनौती साबित होगी। यूपी में करीब 50 विधानसभा सीटें ऐसी हैं, जहां मुस्लिम मतदाता चुनाव का रुख तय करते हैं. सिर्फ पश्चिमी उत्तर प्रदेश की करीब 20 विधानसभा सीटों पर मुस्लिम मतदाता ही हार जीत तय करते हैं, वहीं बीएसपी से गठजोड़ होने पर मुस्लिम और अनुसूचित जाति-जनजातियों के मतदाताओं के ध्रुवीकरण से कई राजनीतिक दलों के समीकरण बिगड़ सकते हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>