यूपी: झाडू मारने के लिए लाइन में लगे BA-MA पास

Aug 10, 2016

गाजीपुर(अनिल कुमार): देश में बेरोजगारों की बढ़ती जनसंख्या ने विकराल रूप धारण कर लिया है। जो वर्षों की मेहनत से अपनी पढ़ाई पूरी कर चुके हैं या फिर कर रहे हैं वह रोजगार की समस्या से किस कदर जूझ रहे हैं तस्वीरों में आप देखकर अंदाजा लगा सकते हैं। दरअसल उत्तर प्रदेश सरकार ने विभिन्न जिलों के लिए सफाईकर्मियों की भर्ती के लिए आवेदन मांगा है। इन पदों पर भर्ती के लिए बेरोजगारों की बड़ी तादाद पोस्ट आफिसों की तरफ दौड़ पड़ी। गाजीपुर जनपद के पोस्ट ऑफिस में टिकट के लिए इन अभ्यर्थियों की लंबी लाइन लग गई। यहां तक की टिकट के लिए धक्का-मुक्की भी देखने को मिली।

BA-MA पास अभ्यर्थियों ने किया आवेदन
वैसे तो इस नौकरी के लिए सरकार की तरफ से शैक्षिक योग्यता हाई स्कूल या फिर इसके समकक्ष मांगी गई है लेकिन इस नौकरी के लिए डिग्री धारकों ने भी आवेदन किया है। हाईस्कूल, इंटरमीडिएट, बीए. एमए,आई0टी0आई0, पॉलीटेक्निक के साथ ही कई उच्च शिक्षा के अभ्यर्थी भी लाईन में लगे दिख रहे हैं। डिग्रीधारक अभ्यर्थियों की इस लाइन को देखकर अंदाजा लगा सकते हैं कि देश में बेरोजगारी की कितनी बड़ी समस्या है।
महिलाओं ने भी किया आवेदन
सिर्फ पुुरुष अभ्यर्थी ही नहीं बल्कि महिलाएं भी बेरोजगारी की समस्या से जूझ रही हैं। अब वह भी घरों में बंद होकर नहीं रहना चाहती। इसलिए वह भी पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने के लिए बेताब हैं। सफाईकर्मी की वैकेंसी के लिए बड़ी मात्रा में ग्रेजुएट महिलाओं ने भी इस पद के लिए आवेदन भरा है। कई महिलाएं अभी भी टिकट के लिए लाइन में लगी हुई हैं।
इसके सिवा हमारे पास कोई आप्शन नहीं
जब सफाईकर्मी की इस वेकेंसी के लिए एक महिला अभ्यर्थी निर्मला से हमारे रिपोर्टर ने बात की तो उन्होंने बताया कि पुरुष ही नहीं हम भी बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहे हैं। पढ़ाई के बाद काम करने के लिए हमारे पास कोई भी आप्शन नहीं है। इसलिए हमने मजबूर होकर इस नौकरी के लिए आवेदन किया है। जिससे हमारा घर सुचारू रूप से चल सके।
क्या कहते हैं डिग्रीधारी पुरुष अभ्यर्थी
जब इस बारे में एमएपास अभ्यर्थी लच्छु राम से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हम इस वैकेंसी के लिए टिकट खरीदने के लिए लाइन में लगे हुए हैं। लच्छु राम ने भी इस तरह की समस्या को बेरोजगारी करार दिया है। वहीं ग्रेजुएशन व आईटीआई डिग्री धारक कमलेश कुमार ने बताया कि बेरोजगारी इसनी बढ़ गई है कि कुछ दिख ही नहीं रहा है कि क्या करें। कोई भी नौकरी करने के लिए तैयार हैं।
जनपद में अपराध में आएगी कमी
गाजीपुर नगरपालिका की ओर से मात्र 190 पदों के लिए इतनी लम्बी भीड़ देखने को मिल रही है तो वहीं आस पास के जनपदों के लिए भी युवा फार्म भरते नजर आ रहे हैं। वहीं इस तरह के नगरपालिका के द्वारा रोजगार के अवसर देने पर स्थानीय लोग अब यह मानने लगे हैं कि जनपद में अब अपराध में भी कुछ कमी आयेगी। क्योंकि युवा बेरोजगारी के आलम में भटक कर जरायम की दुनिया की ओर रूख कर लेते हैं।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>