दूल्हा-दुल्हन के पैरों के नीचे यहां सबने रख दी अपनी हथेलियां, जाने क्यों

Sep 05, 2016
दूल्हा-दुल्हन के पैरों के नीचे यहां सबने रख दी अपनी हथेलियां, जाने क्यों

समाज में अलग-अलग वर्ग के लोग रहते हैं औऱ हर किसी की अपनी पंरपराएं और रीति-रिवाज होते हैं। खासकर शादी समारोह देखें तो हर किसी के अपने रिवाज होते हैं। शादी वाले दिन सबका फोकस दूल्हा-दुल्हन पर होता है कि उनको क्या चाहिए, क्या करना है आदि। कुछ ऐसी ही अलग पंरपरा है लोह-पीटा बंजारों में। इस घुमंतू जनजाति के लोग फेरों और विदाई के दौरान दूल्हा-दुल्हन दोनों को पांव जमीन पर नहीं रखने देते बल्कि वधू के माता-पिता समेत रिश्तेदार अपनी हथेलियां दोनों के रास्ते में बिछा देते हैं ताकि उनके पांव नीचे न लगें।

दूल्हा-दुल्हन जब फेरे लेने लगते हैं तो सभी रिश्तेदार बेदी के पास गोलकार रास्ते में अपनी हथेलियां बिछा देते हैं। सात फेरों से लेकर विदाई तक कोई भी अपनी हथेली नहीं उठाता। जब दूल्हा-दुल्हन गाड़ी में बैठ जाते हैं तो सब अपनी हथेलियां उठाते हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>