संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान ने कश्मीर में हुई मौतों की समर्थित एवं पारदर्शी जांच की मांग की

Jul 15, 2016

भारत की कड़ी प्रतिक्रिया के बावजूद पाकिस्तान ने कश्मीर में हुई ‘न्यायेतर’ हत्याओं की संयुक्त राष्ट्र समर्थित एवं पारदर्शी जांच की मांग की है और कहा है कि कश्मीर में परिस्थिति ‘‘शांति एवं सुरक्षा के लिए एक गंभीर खतरा है.’’

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के मिशन की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की राजदूत मलीहा लोधी ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की-मून के शेफ डी केबिनेट, अवर महासचिव एडमंड मुलेट से मुलाकात की और जांच के लिए जोर दिया.
इसमें कहा गया, ‘‘संयुक्त राष्ट्र में, पाकिस्तान ने भारत अधिकृत कश्मीर में न्यायेत्तर हत्याओं की स्वतंत्र एवं निष्पक्ष जांच की अपील की है और वहां की स्थिति को शांति एवं सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा बताया है.’’
इसमें कहा गया, लोधी ने मुलेट को कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों की ओर से की गई ‘‘भारी क्रूरता’’ की जानकारी दी और हिज्बुल के कमांडर बुरहान वानी की मौत की बात उठाई. लोधी ने उसे ‘‘एक लोकप्रिय कश्मीरी युवा नेता’’ बताया.
विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ने बताया कि 26-11 और कई अन्य आतंकवादी हमलों के मास्टरमाइंड लश्कर ए तैयबा प्रमुख हाफिज सईद की गतिविधियों को लेकर अमेरिका की चिंता बनी हुई है.
उन्होंने कहा, ‘‘हमने बयान देखा है. हमें अब भी उसकी गतिविधियों को लेकर चिंता बनी हुई है. ‘संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद 1267 अल कायदा प्रतिबंध समिति’ ने उसे सूचीबद्ध किया है. वह ‘रिवॉर्डस फॉर जस्टिस प्रोग्राम’ में भी नामित है. लश्कर ए तैयबा और सईद दोनों को अमेरिकी सरकार ने आतंकवादी के तौर पर सूचीबद्ध किया है.’’

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>