मॉडलिंग टू वारदात : एटीएम पर ऐसे लगाती थी लोगों को चूना

Aug 11, 2016

कहानी पूरी फिल्मी है। किसी क्राइम थ्रिलर की तरह। एक लड़की मॉडलिंग और ग्लैमर वर्ल्ड में नाम कमाना चाहती थी। ये लड़की बीबीए की पढ़ाई करने के अलावा कई फैशन शो और इवेंट्स में हिस्सा ले चुकी है। मुंबई में पैर जमाने के लिए इस लड़की को किसी फैशन फोटोग्राफर से अपना पोर्टफोलियो बनवाना था। लेकिन इसके लिए तीन लाख रुपए की ज़रूरत थी। अब इसी पैसे को जुटाने के लिए इसने जुर्म का रास्ता अपना लिया।

मॉडलिंग टू क्राइम

यह लड़की अपने एक पुरुष साथी के साथ मिलकर एटीएम में आने वाले बुज़ुर्गों को निशाना बनाती थी। वह एटीएम के भीतर कार्ड की अदला-बदली कर देती थी और दूसरे के खाते से रकम निकाल लेती थी। लड़की के साथ उसके दोस्त को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इनके पास से 14 हजार कैश, छह एटीएम कार्ड बरामद किए हैं। पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी से मुखर्जी नगर इलाके की 5 वारदात को सॉल्व करने का दावा किया है।

डीसीपी विजय सिंह के मुताबिक, पूछताछ में आरोपियों की पहचान नंदनगरी निवासी वैशाली और बुलंदशहर निवासी शकील के तौर पर हुई है। ये धोखाधड़ी का काम वह 2014 से ही कर रही है। ईजी टारगेट और ईजी मनी का फंडा लड़की को पंसद आ गया था। पांच महीने पहले उसने शकील को दोस्त बनाया। उसके पास सेंट्रो कार है। उसकी कार में सवार होकर वह मुखर्जी नगर आकर वारदात करती थी।

ये ऐसे एटीएम में जाकर वारदात करते थे, जो खराब हों, जहां से रुपये न निकल रहे हों। इस एटीएम के सामने वह अपनी कार खड़ी करते थे। अपने शिकार को देखकर युवती उस एटीएम में मदद के लिए जाती थी। एटीएम इस्तेमाल करने वाले बुजुर्ग शख्स को कभी भी यह एहसास नहीं होता था कि वहां मौजूद युवती फ्रॉड हो सकती है। वह ग्राहक का पिन नंबर भी देख लेती थी। फिर वो अफने शिकार से कहती थी कि ये एटीएम खराब है दूसरे एटीएम में जाइए। लेकिन इसी बीच ये कार्ड बदल देती थी। फिर उस कार्ड से दूसरे एटीएम पर जाकर पैसे निकाल लेती थी।

कैसे करती थी चीटिंग?

15 जुलाई को इंदिरा विहार निवासी अनिता रानी मुखर्जी नगर स्थित पीएनबी के एटीएम से कैश निकालने गई थीं। कैश नहीं निकल पा रहा था। तभी वैशाली एटीएम रूम में दाखिल हुई। उसने महिला को रुपये निकालने में मदद की बात कही। इस दौरान उसने चालाकी से महिला का एटीएम कार्ड बदल लिया। वहां से महिला जब घर पहुंचीं तो उनके मोबाइल पर 25 हजार रुपये निकलने का मैसेज आया। उन्होंने जब अपना एटीएम कार्ड देखा तो वह उनका नहीं था। तब उन्हें पता चला कि लड़की ने उनके साथ ठगी की है। 7 अगस्त की शाम अनिता रानी एक बार फिर एटीएम के आसपास घूमने गईं। वहां उनकी नजर एटीएम कार्ड बदलने वाली लड़की और सेंट्रो कार सवार उसके दोस्त पर पड़ गई। उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने युवती को उसके दोस्त सहित दबोच लिया।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>