असहिष्णुता से भरा ट्रक पकड़ाया, राजनीतिक हलके में मुद्दा गर्माया

Apr 01, 2016

नए साल की शाम को हरियाणा दिल्ली बॉर्डर पर अवैध असहिष्णुता से भरा एक ट्रक मिलने से प्रशासन सकते में आ गया। नए साल का मजा खराब करने के लिए कल रात को एक ट्रक जिसमें अवैध असहिष्णुता भरी थी पुलिस की चौकसी के कारण जब्त किया गया लेकिन मौका पाकर ड्राइवर फरार हो गया है। ट्रक को पुलिस ने कब्जे में कर लिया और पूरी Z+ सिक्यूरिटी के साथ थाने में रखा है।  पुलिस अधिकारी ने पत्रकारों को बताया की ट्रक हमारे कब्जे में है और पूरी तरह से सुरक्षित है। लेकिन प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार खबर ये भी है की आमिर और शाहरुख के समर्थकों ने मौका पाकर एक भारी मात्रा में देश छोड़ने लायक असहिष्णुता चुरा ली थी।    दो पुलिसकर्मी आपस में बातें कर रहे थे कि जब्त की गई असहिष्णुता कैसे भी करके साहित्यकारों तक नहीं पहुंचनी चाहिए। ताकि किसी की मेहनत से बनी फिल्म फ्लॉप न हो सके। पुलिस अधीक्षक ने बताया की इस तरीके से अवैध असहिष्णुता मिलने का ये पहला मामला है। इसे हम गंभीरता से ले रहे हैं और मामले की जांच शुरू हो चुकी है। साथ ही साथ सभी समुदायों से शांति रखने की अपील की गई है। ये खबर मिलते ही हिंदूवादी संगठन बड़े-बड़े फेसबुक पोस्ट और नए ट्वीटर ट्रेंड तैयार करते दिखने लगे हैं। साथ ही कुछ अज्ञात लेखक भी अपना अपना राशन कार्ड वापस करने की तैयारी कर रहे हैं। इस मामले पर अब राजनीति भी शुरू हो गई है।    दिल्ली के CM केजरीवाल ने इसे मोदी की साजिश बताते हुए उनकी गाड़ी को ईवन-ऑड एक्सम्प्टेड लिस्ट से बाहर करने की वकालत की है। वहीं सोनिया गांधी ने इसे राहुल गांधी का ध्यान पोगो से हटाकर देश पर लगवाने की साजिश बताया है। मामला बीजेपी शासित हरियाणा से जुड़ा है अतः उनकी तरफ से प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई हैं। प्रवक्ता सम्बित पात्रा ने इसे विरोधी दलो की राजनीति बताते हुए कहा है कि ये सब मोदी जी की नए साल पर आगे होने वाली विदेश यात्रा का मजा खराब करने के लिए किया जा रहा है। वहीं अनुपम खेर ने इसे कश्मीरी पंडितों से जोड़ते हुए कहा है कि उस समय ये ट्रक कहां था जब कश्मीर से हमें निकाला जा रहा था। जवाब में जावेद अख्तर ने भी मोर्चा सम्भालते हुए खेर को अपने बालों पर ध्यान देने की नसीहत दे डाली।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>