किसानों से मिलने का समय नहीं, परन्तु उद्योगपतियों के बेटो से मिलते है पीएम मोदी

Apr 26, 2016

देशभर में किसानों की स्थिति इन दिनों काफी दयनीय है। 11 राज्य भयंकर सूखे से जूझ रहे है। इँसानों के पीने के लिए पानी नहीं है तो किसान अपने खेतों औऱ जानवरों के लिए पानी की व्यवस्था कहाँ से करें। सूखती फसलें औऱ कर्ज में दबते किसान यह तस्वीर नई नहीं हैं। लेकिन इस तस्वीर को बदलने का विश्वास दिलाया था प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को। किसानों को उम्मीद दिखाई थी कि अबकी बार मोदी सरकार, जिसमें प्रधानमंत्री नहीं बल्कि आपका प्रधानसेवक बैठा होगा कुर्सी पर। तब किसान आत्महत्या नहीं करेंगे। तब किसान खुशहाल होंगे। स्वदेशी बाजार होंगे, किसानों को अपने फसल के मनमाने दाम मिलेंगे। बैंकों से आसान कर्ज मिलेगा औऱ भी बहुत कुछ।

लेकिन करीब-करीब नई सरकार के 2 साल बीत जाने के बाद भी ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। किसान आज भी परेशान, बेहाल हैं औऱ कर्ज के बोझ तले दबे हुए है। बाजारों में कमीशनखोरी औऱ जमाखोरी की जड़े लगातार गहरी होती जा रही है। कोई भी किसानों का प्रतिनिधिमंडल दल आजतक अपनी समस्या लेकर अपने प्रधानसेवक से मिल नहीं पाया है।

इन दिनों सूखे की चपेट में किसान सबसे ज्यादा परेशान है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों से नहीं बल्कि उद्योगपति अंबानी के पुत्र से मिलते है। चुनाव औऱ देश-विदेश के व्यस्थ दौरों में भी मोदी अंबानी पुत्र के लिए वक्त निकाल लेते है। पर किसानों से मिलने का वक्त नहीं निकाल पाते।

रैलियों में भीड़ की चिंता

इतना ही नहीं किसानों पर जुल्म की इंतहा तो तब देखने को मिलती है जब पीएम की रैली हो औऱ अफसरों के तुगलगी फरमान। अभी हाल में एमपी में एक सरपंच को उसकी सरपंची जाने को खौफ दिखाकर पीएम की रैली में बुलाया गया। वह महिला अपनी बिमार बेटी को लेकर मैदान में पहुंच गई। फिर भी पीएम ने उस अफसरी फरमान की सुध नहीं ली।

14 अप्रैल- बी आर आंबेडकर जयंती पर स्कूली बच्चों औऱ बसों को पीएम की रैली में बुलाया गया। प्रशासन की तरफ से धमकी दी गई। फिर भी पीएम चुप रहें।

किसानों पर बढ़ते सरकारी जुल्म औऱ कुदरती कहर से प्रधानसेवक एकदम बेसुध है। वह अंबानी पुत्र से मिलते है पर किसानों से नहीं। वह बड़े-बड़े उद्योगपतियों के यहाँ जाते है पर किसानों के दर्द में नहीं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>