सीबीआई ने की दाभोलकर हत्याकांड में तीन साल बाद पहली गिरफ्तारी

Jun 11, 2016

अंधविश्वास के खिलाफ अभियान चलाने वाले तर्कवादी नरेंद्र दाभोलकर की 2013 में पुणे में हुई हत्या के संबंध में सीबीआई ने पहली गिरफ्तारी की है.

सीबीआई ने हिंदू जनजागृति समिति के सदस्य वीरेंद्र सिंह तावड़े को गिरफ्तार किया है.

तावड़े को पनवेल से शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया गया और उसे शनिवार दोपहर पुणे की एक विशेष अदालत में पेश किया जाएगा.

समिति का संबंध गोवा के उस कट्टर समूह सनातन संस्था से है जो फरवरी 2015 में एक अन्य तर्कवादी गोविंद पंसारे की हत्या के कारण जांच के दायरे में आई थी.

सीबीआई के प्रवक्ता देवप्रीत सिंह ने कहा, ‘‘सीबीआई ने डॉ. नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के मामले की जांच के संबंध में वीरेंद्र सिंह तावड़े को गिरफ्तार किया है.’’

ये भी पढ़ें :-  अगर जल्लीकट्टू पर केंद्र सरकार अध्यादेश लाई, तोे ‘पेटा’ लेगा कानूनी सहारा

उन्होंने कहा, ‘‘उसे आज पुणे की विशेष अदालत में अपराह्न करीब तीन बजे पेश किया जाएगा. जांच जारी है.’’

दाभोलकर की 20 अगस्त 2013 को दिनदिहाड़े गोली मारकर की गई हत्या के मामले की जांच मुंबई उच्च न्यायालय ने मई 2014 में सीबीआई को सौंप दी थी. तब से यह मामले में पहली गिरफ्तारी है.

इस हत्या पर लोगों ने रोष व्यक्त किया था और जाने-माने कई लेखकों और अन्य हस्तियों ने कथित असहिष्णुता के विरोध में अपने पुरस्कार लौटा दिए थे.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected