इस महिला को ISIS ने बना रखा था सेक्स स्लेव, अब ऐसे ले रही हैं बदला

Jul 24, 2017
इस महिला को ISIS ने बना रखा था सेक्स स्लेव, अब ऐसे ले रही हैं बदला

यजीदी महिलाओं पर ISIS के जुल्म की बात करें तो उनकी फेहरिस्त बहुत लंबी है। जहाँ इन आतंकियों ने यजीदी महिलाओं को न सिर्फ किडनैप किया, बल्कि उनको सेक्स स्लेव बनाकर रखा हुआ है। जिसको एक यजीदी लड़की ने इन्हीं आतंकियों के चंगुल से छूटने के बाद अपने साथ हुए इस टॉर्चर दर्द भरी दास्तान को बयान किया है। इतना ही नहीं, बल्कि अब तो ये लड़की उन आतंकियों से बदला लेने के लिए उसने बंदूक भी उठा कर चल पड़ी है।


बता दें ISIS के चंगुल से आज़ाद हुई लड़की का नाम हेजा शंकल बताया है। हेजा ने न्यूज एजेंसी अरब24 को दिए गए अपने एक इंटरव्यू के दौरान ISIS के टॉर्चर की कहानी बयान किया था कि, उसको आतंकियों ने किडनैप करने के बाद एक सेक्से स्लेव की तरह रखा, और बाद में उसे बारी-बारी से पांच ISIS लड़ाकों को बेचा गया था। उसके साथ हुए इस गंदे काम के बाद उसने आपने आप को कई बार जान से मरने की कोशिश भी की लेकिन वो हर बार बच गई। उसने आगे बताया कि वो बड़ी खुशनसीब है। कि उसको सेना का साथ मिला, जिन्होंने उसे रक्का से निकालकर वापस सिंजर पहुंचा दिया।

ये भी पढ़ें :-  सावधान! अण्डों में पाए जा रहे विषैला कीटनाशक, मौत का खतरा, मारी जा रही हैं मुर्गियां

हेजा ने आगे बताया कि 2014 में सिंजर प्रांत से हेजा और उसकी दो बहनों को किडनैप कर लिया था। और यहां से किडनैप की गईं लड़कियों और महिलाओं को सेक्स स्लेव बनाकर रखा गया था। लेकिन आज़ाद होने के बाद वहां जो कुछ उसने झेला और देखा है उसी के चलते उसने आतंकियों से बदला लेने के लिए ‘शेंगल वुमन यूनिट’ में शामिल होने का फैसला किया था। और हेजा के मुताबिक जब तकउन आतंकियों से बदला नहीं ले लेती तब तक उसके जख्म नहीं भर पाएंगे, और उसने आतंकियों के नाम गिनाते हुए कहा कि ये हथियार उन्होंने अबु हसन, अबु साद और अबु युसुफ नाम के आतंकियों को मार गिराने के लिए उठाए हैं। हेजा के अनुसार, ISIS ने अपने पास लगभग 3 हजार से ज्यादा महिलाएं किडनैप करके रखा हुआ है। और जब तक वो इन सभी महिलाओं को उनके चंगुल से आजाद नहीं करा लेती, तब तक उनका बदला पूरा नहीं होगा।

ये भी पढ़ें :-  पाकिस्तान ने पिछले 5 साल में 298 भारतीयों को दी अपनी नागरिकता

2015 में इराक में इस्लामिक स्टेट के बढ़ते आतंक और यजीदी कम्युनिटी की सेफ्टी के लिए यजीदी महिलाओं ने महिला लड़ाकों की एक फौज बनाई थी। जिसको ‘शेंगल वुमन यूनिट’ के नाम से जाना जाता है। ये यूनिट ISIS के खिलाफ लड़ाई में ‘वुमन प्रोटेक्शन यूनिट’ का भी हिस्सा है। वुमन प्रोटेक्शन यूनिट कुर्द, अरब, सिरकेसियन और कई विदेशी महिला वॉलन्टियर्स को मिलाकर बनाई गई यूनिट है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>