यह हैं दुनिया की पहली हिजाबी बैले डांसर, हिजाब पहन करती हैं डांस

Nov 06, 2017
यह हैं दुनिया की पहली हिजाबी बैले डांसर, हिजाब पहन करती हैं डांस

दुनिया के किसी भी महिला के लिए स्पोर्ट्स पर्सन बने रहना कोई आसान बात नहीं है। लेकिन एक महिला का हिजाब पहन कर पूरी दूनिया के सामने डांस करना किसी जंग जीतने से कम नही है। हम ऐसा ही कारनामा अंजाम देने वाली एक मुस्लिम लड़की की बात कर रहे हैं जिसने सारे दिवारों को तोड़ते हुए हिजाब पहन कर बैले डांस करने का सोचा है। और दुनिया के सामने एक डांसर के तोर पर अपने आपको पेश किया।

बता दें कि इस लड़की का नाम स्टेफनी कुर्लो है। जो की ऑस्ट्रेलिया के सिडनी की रहने वाली हैं। यह लड़की अभी महज 14 साल की है। इस लड़की को बचपन से ही डांस का काफी शौक था। इसको सबसे पहला स्टेज शो 5 साल की उम्र में ही मिल गया था। लेकिन आपको ये जानकार हैरानी होगी कि उसके परिवार वालों ने 2010 में इस्लाम को अपना लिया था। इस्लाम को अपनाने के बाद इस लड़की ने ये सोचा कि वह अब अपने मजहब को मानते हुए हिजाब पहन कर ही डांस करेगी। लेकिन जब ये लड़की हिजाब पहनकर निकली तो इसको किसी भी डांस इंस्टीट्यूट ने अपने यहां ट्रेनिंग देने से मना कर दिया। इसके बारे में डांस इंस्टीट्यूटों का कहना था कि हिजाब पहन और मुस्लिम आउटफिट पहन कर बैले डांस करना असम्भव है।

लेकिन ये लड़की भी अपने सोच की पक्की निकली ये हिम्मत नहीं हारी। उसने एक कैंपन शुरू किया। जिसका नाम उसने lauch good रखा। जिसमें वह फंड जमा कर रही हैं। ताकि वह इस फंड से एक डांसिंग स्कूल खोल सके। उसने डांस इंस्टीट्यूटों का चक्कर छोड़ा और घर पर ही प्रैक्टिस करना शुरु किया और इंटरनेट पर अपने डांस वीडियो डालने शुरु कर दिए।

इस बारे में स्टेफनी का कहना है कि,’ मेरा प्लान है कि मैं पूरी दुनिया के सामने आउं। ताकि लोगों मुझसे प्रेरणा ले सकें। जिन लोगों को लगता है कि सपनो की कोई सीमा नहीं होती वह अपनी मंजिल तक पहुंच ही जाते हैं।’ इनका सपना है कि वह एक ऐसा आर्टस स्कूल खोलें जिसमें सिर्फ यंग लोग ही हो। जो अलग-अलग मजहब और जगह से हों।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>