क्यूँकि वो ग़रीब थे, इसलिए मॉर्चूएरी वैन ने लाश को घर ले जाने से इंकार कर दिया

Jun 18, 2016

इंसानियत को शर्मशार करने वाली यह तस्वीर मध्य-प्रदेश के सिंह जिले की है जो यह साबित करने के लिए काफी है कि हमारे देश में गरीबों और हाशिए के लोगो को हमारा समाज और हमारी सरकारें क्या समझती हैं। इस तस्वीर में दो व्यक्ति एक बम्बू को कंधे पर रखकर अपने रिश्तेदार की लाश सरकारी अस्पलात से घर ले जा रहें हैं। किसी अपने की लाश को अपने कंधे पर इन्हें इसलिए ढ़ोना पड़ा क्योंकि सरकारी अस्पलात की मॉर्चूएरी वैन ने लाश को घर ले जाने से मना कर दिया क्योंकि मरने वाला व्यक्ति गरीब था और पिछड़े इलाके में रहता था।

ये भी पढ़ें :-  तीन बार के सपा विधायक सेंगर शामिल हुए भाजपा में, जानिए और कितने विधायक हैं लाइन में

न्यूज़ 18 की इंग्लिश पोर्टल के अनुसार, मध्य-प्रदेश के सिंह जिले के एक निवासी की बिमारी की वजह से अस्पताल में मौत हो गई। मरने वाला व्यक्ति बेहद गरीब था और जिले के एक गरीब गाँव में रहता था। बाद इसके जब मृत व्यक्ति के घर वालों ने अस्पताल के प्रशासन से लाश को मॉर्चूएरी वैन से घर पहुंचाने की बात कि तो उन्हें साफ़ मना कर दिया गया । इस इनकार के बाद मृत व्यक्ति के परिजनों को मजबूरन लाश को बम्बू के सहारे अपने कंधो पर उठाकर पांच किलोमीटर अपने घर ले जाना पड़ा।

अमानवीयता की सारी हदें पार कर देने वाली इस घटना के सन्दर्भ में जब न्यूज़ 18 ने जब गाँव के सरपंच से बात की तो उन्होंने भी स्वीकार किया कि मॉर्चूएरी सर्विस की तरफ से इन गरीब की लाश को घर पहुंचाने से इनकार किया गया है।

ये भी पढ़ें :-  पार्टी के नाम पर होटल में हो रही थी सेक्स पार्टी, पुलिस पहुंचते ही निर्वस्त्र पकड़े गए लड़के-लड़कियां

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected