इन दो बहनों ने लगाएं बाप पर संगीन और शर्मिंदा करने वाले आरोप

Aug 25, 2017
इन दो बहनों ने लगाएं बाप पर संगीन और शर्मिंदा करने वाले आरोप

भारतभर में आए दिन नई नई घटनाएं होती है जिनपर कोई लगाम नहीं लग प् रही हैं। कुछ मामले ऐसे होते हैं जिन्हे जानने के बाद रिश्तों में मौजूद गंदगी बहार आ जाती है। मामले ऐसे गंभीर और चौकाने वाले होते हैं जिन्हे जानकर लोगों से भरोसा उठ जाता है। एक ताज़ा मामला सामने आया है मध्य प्रदेश के मंदसौर से जहां दो बहनों ने अपने माता-पिता पर ऐसे संगीन और शर्मिंदा करने वाले आरोप लगाए हैं, जिसे जानकर शायद आपको यकीन ना हो। इन बहनों ने बताया कि, माता-पिता उन्हें पैसों के लिए शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना देते हैं. वो उनको रात में घर के बाहर निकाल देते हैं और बोलते हैं कि कुछ भी करके रुपए लेकर आएं।

कहानी है अभिनंदन नगर निवासी अर्चना और आरती की। इन दोनों बहनों ने महिला सशक्तिकरण ऑफिस में अपने पिता के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। आरती का आरोप है कि उसके पिता बहादुरसिंह सोलंकी जो कि पूर्व आरक्षक हैं, वो इन दोनों बहनों को आए दिन प्रताड़ित करते हैं।

बताया कि ‘मेरे माता पिता मुझे और मेरी बहन को गंदा काम करने के लिए धमकाते हैं. बताया कि हमें 300 रुपए रोज लाकर दो. इसके लिए जो करना पड़े करो. मेरे पिता ने जबरन मेरे नाम से 50000 हजार रुपए का बैंक लोन ले रखा है. उन्होंने सारे रुपए खर्च कर दिए, अब लोन नहीं चुका रहे हैं. मेरी बहन को शराब के नशे में पिता पीटते हैं और रात को एक बजे घर से बाहर निकाल देते हैं.’

आरती जैसी ही शिकायत उसकी बहन अर्चना की है. वो बीए पास है और एक स्कूल में जॉब कर रही है. उसका कहना है कि, ‘तीन साल से पिता शराब के नशे में उससे मारपीट करते आ रहे हैं. इतना ही नहीं कई बार रात को एक बजे घर से बाहर निकाल देते हैं. इन सबसे पीड़ित होकर करीब दो महीने से मैं अपनी बड़ी बहन के साथ रह रही हूं. इस बात से गुस्साए पिता ने बड़ी बहन को व उसके बच्चे को मारने की धमकी दी है. पिता ऐसा कर सकते हैं, क्योंकि एक बार पहले उन्होंने ऐसा प्रयास किया है.’

बेटियों के इन आरोपों पर पिता ने बताया कि दोनों बेटियां मर्जी से जीती हैं. आरती ने तो मर्जी से शादी तक कर ली, लेकिन उन्होंने कुछ भी नहीं कहा. अब अर्चना भी उसी राह पर चल रही है, इसलिए उनको बुरा लगता है।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>