सूखाग्रस्त लातूर में मंत्री ले रहे है सेल्फी हुआ विवाद

Apr 18, 2016

महाराष्ट्र सरकार की मंत्री पंकजा मुंडे सूखाग्रस्त लातूर के दौरे पर पहुंचीं. उन्होंने अपने दौरे की सेल्फी और अन्य तस्वीरें ट्विटर पर शेयर की थीं.

उनकी सेल्फी के जरिये विपक्षी पार्टियों ने महाराष्ट्र सरकार को घेरना शुरू कर दिया है.दरअसल मुंडे अपनी टीम के साथ सूखे के हालातों का जायज़ा लेने लातूर गई थी जहां उन्होंने सेल्फी खींची.

गौरतलब है कि लातूर में ट्रेनों के ज़रिए पानी पहुंचाया जा रहा है जिसे जनता तक ले जाने के लिए पाइपलाइन का काम चल रहा है. मुंडे इसी काम की समीक्षा करने लातूर गईं थी जहां उन्होंने बराज के आगे खड़े होकर तस्वीर खींची और उसे ट्वीट किया.

कांग्रेस के प्रवक्ता सुरजेवाला ने इस पर बयान देते हुए कहा कि ‘पंकजा नई नई मंत्री बनी हैं, स्कैम में भी उनकी भूमिका पहले से ही संदेह के गहरे में रही है. पहले भी जब महाराष्ट्र में सूखा पड़ा था तब वह विदेश यात्रा कर रही थी. सूखे पर सस्ती राजनीति कर रही हैं. बजाय किसानों के आंसू पोंछने के, मरने वाले परिवारों को राहत देने के, पकंजा जी सेल्फी में बिज़ी हैं.’

इस बवाल के बाद पंकजा ने ट्वीटर पर अपनी बात रखी और कहा कि ‘मेरे जानकार दोस्त, मैं डिपार्टमेंट हेड के तौर पर मौके पर हालात का जायज़ा लेने गई थी. मैं और मेरे साथ मौजूद अधिकारी कई जगहों पर गए लेकिन पानी नहीं मिला. यहां हमें पानी मिला इसलिए तसल्ली मिली.’

मुंडे ने यह भी लिखा ‘यह तस्वीरें सरकार और जनता की भागीदारी से हुए काम की हैं. यह मेरा विभाग है और मैं पहले दिन से काम कर रही थी. मुझे थोड़ी संतुष्टि मिली है और अगर बारिश हुई तो हम तैयार हैं.’

महाराष्ट्र फिलहाल सूखे की चपेट में है और लोग जैसे तैसे पीने का पानी हासिल कर रहे हैं, लेकिन महाराष्‍ट्र की ग्रामीण विकास और जल संरक्षण मंत्री पंकजा मुंडे को इस भारी सूखे में भी सेल्फी लेने की अधिक फ्रिक थी. पंकजा ने ये सेल्फी अपने ट्विटर हैंडल से शेयर की की जो वायरल हो रहा हैं. लोग पंकजा की आलोचना कर रहे हैं.

पंकजा मुंडे लातूर जिले के सूखा प्रभावित इलाकों में कामों का जायजा लेने पहुंची थीं. पंकजा लातूर जिले केसाई गांव पहुंची थी जहां मंजरा नदी पर बड़े पैमाने पर गाद निकालने का काम चल रहा है. मंजरा नदी लगभग सूख चुकी है. वहीं जब पंकजा यहां पहुंची तो वे वहां चल रहे कामकाज के साथ सेल्‍फी लेने लगी.

उन्‍होंने वहां मौजूद कई अफसरों के साथ भी सेल्‍फी ली. इसके बाद वे नदी की दूसरी ओर भी गई और गाद निकालने के काम को बेहद करीब से देखा.

दरअसल, वहां जल योजनाओं और अन्य सरकारी कामों के बैकग्राउंड पर उन्होंने सेल्फी खींची. पंकजा मुंडे ने जल परियोजना और बांध जैसी जगहों की तस्वीरें और सेल्फी साझा की थीं. बस इसी से विपक्ष भड़क गया.

गौरतलब है कि इसके पहले लातूर के दौरे पर गए राज्य के राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे भी विवादों में घिरे थे.

पानी की समस्या से जूझ रहे लातूर में मंत्री के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए हेलीपैड बनाने में हजारों लीटर पानी बर्बाद हुआ था. जबकि लातूर में ट्रेनों से पानी पहुंचाया जा रहा है जिसमें सरकर के लाखों रुपए खर्च हो रहे हैं.

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>