सेना की जीप पर बंधा युवक आया सामने, कहा – नहीं हूँ पत्थरबाज़, मै गरीब आदमी हूँ, कहां शिकायत करूंगा

Apr 15, 2017
सेना की जीप पर बंधा युवक आया सामने, कहा – नहीं हूँ पत्थरबाज़, मै गरीब आदमी हूँ, कहां शिकायत करूंगा

कश्मीर में सेना की एक जीप के सामने पथराव से बचने के लिए बांधे गए एक युवक के वीडियो से कश्मीरियों में गुस्सा व्याप्त हो गया है। सेना ने कहा है कि इस वीडियो की जांच की जा रही है।

वही उमर ने ट्वीट कर कहा, “इस युवक को सेना की एक जीप के सामने बांधा गया, ताकि कोई जीप पर पथराव न करे? यह बेहद स्तब्ध करने वाली घटना है।”

‘फ्रस्टेटिडइंडियन’ के हवाले से एक ट्वीट में कहा गया है, “कोई भी पत्थरबाजी करे, उसे बांध दीजिए और उसके पत्थरबाज भाइयों को सिर खुजाने दीजिए। यह विचार पहले ही आ जाना चाहिए था।”

विडियो में दिख रहे युवक की पहचान फारूक अहमद डार के रूप में हुई, जो पेशे से बुनकर हैं। ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से बात करते हुए फारूक ने बताया कि उसने अपने जिन्दगी में कभी पत्थरबाजी नहीं की, उसने बताया की वो पत्थर चलाने वालों में से नहीं है। बल्कि वो तो कश्मीर में कुछ छोटे-मोटे काम करता हैं।

फारुक ने आगे बताया कि ‘मेरे सीने पर एक पोस्टर बांध दिया गया जिस पर लिखा था कि मैं पत्थरबाज हूं। मुझे 9 गांवों से घुमाते हुये स्थानीय सीआरपीएफ कैंप में ले जाया गया। जहां मुझे जीप से खोला गया और कैंप में बिठाया गया। इस दौरान सीआरपीएफ जवान गाड़ी से आवाज लगा रहे थे-आओ और अपने ही आदमी पर पत्थर चलाओ।

शिकायत को लेकर फारुक ने कहा कि ‘गरीब आदमी हूँ कहाँ शिकायत करने जाऊ। मैं कुछ नहीं करना चाहता। मैं डरा हुआ हूं, मेरे साथ कुछ भी हो सकता है.’ वहीँ उनकी मां ने कहा कि फारूक ही मेरे लिए सब कुछ है। अगर इसे कुछ हो गया तो मैं कहीं की नहीं रह जाउंगी।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>