दुनिया की पहली ऐसी दरगाह जहां पर जो मांगो वह मिल जाता है।

Apr 10, 2017
दुनिया की पहली ऐसी दरगाह जहां पर जो मांगो वह मिल जाता है।

जी हां हम सही कह रहे हैं आज हम आपको उस दरगाह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर कोई भी आज तक खाली हाथ नहीं लौटा है। यह दरगाह मुंबई के वर्ली में एक छोटे से टापू पर स्थित है तथा इस दरगाह को 19 वीं सदी में बनाया गया था। यह प्रसिद्ध दरगाह समुद्र से 500 गज की दूरी पर स्थित है इस दरगाह पर सिर्फ मुस्लिम ही नहीं बल्कि हिंदू लोग भी बहुत जाते हैं।

कहां जाता है यहां पर आस्था और विश्वास का केंद्र है, इस दरगाह को माना जाता है हमेशा ही समुद्र की जितनी भी लहरे होती है वह हमेशा ही दरगाह की चौकट चूमती रहती हैं। तथा आप लोग भी अगर यहां पर जाएंगे तो यहां का नजारा देखकर दंग रह जाएंगे पानी की लहरों के बीच में सफेद रंग का उज्जवल हाजी अली की दरगाह बेहद दर्शनीय लगती है। कहा जाता है कि अपनी माता की अनुमति लेकर हाजी अली शाह बुखारी अपने भाई के साथ भारत आए और मुंबई के वर्ली इलाके में ही रहने लगे थे।

उस समय के बाद ही उनका यह स्थान से लौटने का समय आया तब वापस न जाकर उन्होंने अपने मां के नाम का एक पत्र भेजा जिसने माफी मांगते हैं उन्होंने लिखा था कि अब यह मुंबई रहकर इस्लाम का प्रचार प्रसार करेंगे। लोगों को इस्लाम की शिक्षा देंगे तब से ही यहां पर उनकी बनी दरगाह आज तक लोगों के दिलों में वास करती है कहां जाता है इस दरगाह पर कोई भी मुराद मांगी जाए वह पूरी हो जाती है कोई आदमी खाली हाथ नहीं जाता।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>