होलोकाॅस्ट को इतिहास का सबसे बड़ा झूठ बताने वाली महिला को आठ महीने की सज़़ा

Sep 08, 2016
होलोकाॅस्ट को इतिहास का सबसे बड़ा झूठ बताने वाली महिला को आठ महीने की सज़़ा

होलोकाॅस्ट का इन्कार करने वाली जर्मनी की एक 87 वर्षीय महिला इतिहासकार को आठ महीने जेल की सज़़ा सुनाई गई है।
उर्सूला हेवरबैक ने हाल ही में कहा था कि नाज़ियों के जबरी श्रम कैम्प आॅश्वित्ज़ में यहूदियों को कभी भी यातनाएं नहीं दी गई थीं। उनके इस बयान पर डोर्थमोंड की एक अदालत ने उन्हें आठ महीने जेल की सज़ा सुनाई है। हेवरबैक ने डोर्थमोंड के महापौर को एक पत्र में लिखा था कि आॅश्वित्ज़ केवल एक साधारण श्रम कैम्प था। उर्सूला हेवरबैक को इससे पहले भी कई बार इस प्रकार के बयानों के लिए सज़ाएं सुनाई जा चुकी हैं।
पिछले साल उन्होंने कहा था कि होलोकाॅस्ट इतिहास में लोगों से बोला जाने वाला सबसे बड़ा और सबसे लम्बा झूठ है। उनके इस बयान पर उनके ख़िलाफ़ अदालत में मुक़द्दमा चलाया गया था। ज्ञात रहे कि अधिकांश यूरोपीय देशों में होलोकाॅस्ट के बारे में जांच करने और उससे संबंधित तथ्य सामने लाने की अनुमति नहीं है और इसे दंडनीय अपराध समझा जाता था। होलोकाॅस्ट के बहाने ही पश्चिमी देशों की सहायता से फ़िलिस्तीन का अतिग्रहण करके ज़ायोनी शासन को अस्तित्व प्रदान किया गया था।

ये भी पढ़ें :-  अमेरिका ने अफगानिस्तान में आम लोगों के कत्लेआम को अब जाकर माना

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected