सर्वे का खुलासा-‘79% महिलाएं और 78% पुरुष रखते हैं बेटी की चाह’

Jan 23, 2018
सर्वे का खुलासा-‘79% महिलाएं और 78% पुरुष रखते हैं बेटी की चाह’

हाल ही में नेशनल फैमिली हैल्थ सर्वे (एनएफएचएस) ने एक सर्वे किया जिससे ये अंदाज़ा आप लगा सकते हैं कि देश में बेटियों की चाहत लोगों के दिलों में कितनी बढ़ रही है। (एनएफएचएस) के आंकड़ों की मानें तो देश में बेटियों की चाह रखने वाले महिला-पुरुषों की संख्या में वृद्धि हुई है।

बता दें कि नेशनल फैमिली हैल्थ सर्वे (एनएफएचएस) की रिपोर्ट के अनुसार, 79% महिलाएं और 78% पुरुषों ने ये माना है कि उन्हें कम से कम एक लड़की मतलब एक बेटी तो जरूर होनी चाहिए। (एनएफएचएस) के इस सर्वे में 15 से 49 साल की महिलाएं और 15 से 54 साल के पुरुषों को शामिल किया गया था। इस रिपोर्ट की खास बात ये रही कि अनुसूचित जाति, जनजाति, मुस्लिम और ग्रामीण क्षेत्रों के अलावा आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के महिला और पुरुष भी यह विचार रखते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि साल 2005-06 के आंकड़े देखें तो उस समय बेटियों की चाह केवल 74% महिलाओं और 65% पुरुषों को ही थी। इस सर्वे के अनुसार, शहरी क्षेत्रों में रहने वाले 75% महिला-पुरुष जहां एक बेटी की चाह रखते हैं तो वहीं ग्रामीण इलाकों में महिलाओं की यह दर 81% है। और दूसरी तरफ पुरुषों की 80% है। अगर ये आंकड़े पढ़े और अनपढ़े महिला-पुरुषों में बताएं तो इस सर्वे से पता चलता है कि बारवहीं कक्षा तक की शिक्षा हासिल करने वाली 72% महिलाओं और 74 % पुरुषों को एक बेटी की चाह है। लेकिन दूसरी तरफ अनपढ़े महिला-पुरुषों की बात करें तो उनमें 85% महिलाएं और 83% पुरुष परिवार में एक बेटी की चाह रखते हैं।

इस सर्वे में बेटे की इच्छा को लेकर भी सवाल किया गया था। जिसमें ये बात सामने निकलकर आई है कि देश भर में विभिन्न वर्गों की 82% महिलाएं और 83% पुरुष चाहते हैं कि उनके परिवार में एक बेटा जरूर हो चाहिए। जब्कि महिलाओं और पुरुषों दोनों में लगभग 19% लोगों ने बेटियों की तुलना में अधिक बेटे चाहते हैं। ऐसे में परिवार में बेटों की तुलना में ज्यादा बेटियों की चाह रखने वाले महिला और पुरुषों की संख्या फिलहाल 3.5% ही है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>