नोट बंदी के बाद कालेधन का सहारा बने जन धन खाते, 13 दिन में जमा हुए 21 हजार करोड़

Nov 24, 2016
नोट बंदी के बाद कालेधन का सहारा बने जन धन खाते, 13 दिन में जमा हुए 21 हजार करोड़

नोट बंदी को कालेधन और आतंकवाद पर स्ट्राइक बताने वाली मोदी सरकार के लिए यह खबर परेशान करने वाली है। नोट बंदी के बाद कालेधन को सफ़ेद करने का धंधा पुरे जोरो पर चल रहा है। कालेधन को सफ़ेद करने में सबसे मददगार है जन धन खाता। है वही जन धन खाता जिसको मोदी सरकार हमेशा अपनी एक बड़ी उपलब्धि बताती है। जिस जन धन खाते को वो कालेधन को खत्म करने के लिए एक रणनीति बता रहे थे उसी जन धन खाते ने अब कालेधन को सफ़ेद करने के हथियार के रूप में इस्तेमाल हो रहा है। नोट बंदी के 13 दिन के अन्दर ही इन्ही जन धन खातो में करीब 21 हजार करोड़ रूपए जमा हुए। यह पैसा किसका है और इनका इन खातो में जमा क्यों हुये। यह आपको समझाने की जरुरत नही है।

ये भी पढ़ें :-  छग : मुठभेड़ में 7 नक्सली मारे गए

जैसे ही यह आंकड़े आरबीआई के नज़र में आये।आरबीआई ने सभी बैंकों को इन पर नजर रखने का आदेश दे दिया। फ़िलहाल इन खातो में पैसा जमा करने पर रोक नही लगाई गयी है। आपको बता दे कि जन धन खाते में अधिकतम 50 हजार रूपए जमा किया जा सकता है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected
error: 24hindinews.com\'s content is copyright protected