राष्ट्रपति ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET से संबंधित अध्यादेश पर हस्ताक्षर किए

May 24, 2016

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंगलवार को संयुक्त मेडिकल प्रवेश परीक्षा एनईईटी से संबंधित अध्यादेश पर हस्ताक्षर कर दिए.

इसके पहले राष्ट्रपति ने स्वास्थ्य मंत्रालय से कई अहम जानकारी और स्पष्टीकरण मांगा था, जिसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने सोमवार को ही राष्ट्रपति से मुलाकात की थी.

नड्डा ने अपनी मुलाकात में एनईईटी से जुड़े अध्यादेश की जरूरत के बारे में राष्ट्रपति को स्पष्टीकरण दिया और सरकार के पक्ष को राष्ट्रपति के सामने रखा.

वहीं इस पूरे मामले पर कांग्रेस का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अध्यादेश लाना सही नहीं है और ये न्यायपालिका की स्वतंत्रता का उल्लंघन है.

राष्ट्रपति मंगलवार को चीन रवाना हो रहे हैं. समझा जाता है कि सोमवार को आधे घंटे से ज्यादा चली मुलाकात के दौरान नड्डा ने राष्ट्रपति को राज्य बोर्डों की विभिन्न परीक्षाओं, पाठ्यक्रम और क्षेत्रीय भाषाओं के तीन मुद्दों पर जानकारी दी.

अध्यादेश शनिवार को राष्ट्रपति को भेजा गया था. नड्डा को जिनीवा में एक स्वास्थ्य सम्मेलन में भाग लेने जाना था लेकिन राष्ट्रपति से मुलाकात के लिए उन्हें अपना दौरा रद्द करना पड़ा.

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को अध्यादेश को मंजूरी दी थी. इसका उद्देश्य सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश को ‘आंशिक’ रूप से बदलना है जिसमें कहा गया है कि सभी सरकारी कॉलेज, डीम्ड विश्वविद्यालय और निजी मेडिकल कॉलेज नीट के दायरे में आएंगे.

राष्ट्रपति ने अध्यादेश पर आंतरिक कानून विशेषज्ञों की भी राय ली, जिसके बाद मंगलवार को राष्ट्रपति ने इस पर अपनी मुहर लगा दी.

परीक्षा का अगला चरण 24 जुलाई को होना है. बीते एक मई को नीट के पहले चरण में करीब 6.5 लाख विद्यार्थी चिकित्सा प्रवेश परीक्षा दे चुके हैं.

 अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>