केंद्रीय मंत्री को बताया लापता, चस्पा किए हजारों पोस्टर, 151 रूपये ईनाम घोषित

Aug 12, 2016

नोएडा। देश में केवल भगोडे चोर-बदमाशों के खिलाफ ही ईनाम घोषित नहीं हो रहे हैं, बल्कि एक राजनेता के खिलाफ भी अब ईनाम घोषित किया गया है। यह राजनेता हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट के केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा। ग्रेटर नोएडा के कई गांवों की दीवारों पर महेश शर्मा के लापता होने के पोस्टर लगे हुए हैं। पोस्टर छपवाने और लगवाने वाले ने केंद्रीय मंत्री को ढूंढकर लाने वाले को ईनाम में 151 रूपये देने की घोषणा भी की है।

ग्रेटर नोएडा के चिपियाना निवासी मास्टर नितिन शर्मा ने महेश शर्मा के खिलाफ दर्जनों गांवों में हजारों के पोस्टर छपवाए हैं। नितिन का कहना है कि केंद्रीय मंत्री ने बीते दो सालों में उनके क्षेत्र में वादों के अनुसार विकास नहीं किया। बीते 17 अप्रैल को महेश शर्मा चिपियाना गांव में आए थे और संपूर्ण विकास का वादा करके गए थे। विकास तो दूर उन्होंने गांव के लोगों से मिलना भी गवारा नहीं समझा। जिसके बाद मास्टर नितिन शर्मा ने महेश शर्मा के खिलाफ पोस्टर छपवाकर लापता महेश शर्मा को ढूंढने का अभियान छेडा है। नितित शर्मा ने बताया कि अब वह अपने सांसद का आगामी रविवार को गांव में पुतला भी दहन करेंगे।

फूंके जा चुके हैं केंद्रीय मंत्री के पुतले
पिछले कई महीने से केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के खिलाफ गौतमबुद्धनगर में विरोध-प्रदर्शन जारी हैं। आडियो क्लिप में कथित तौर पर गुर्जरों को गाली देने को लेकर जहां ग्रेटर नोएडा के गुर्जरों द्वारा दर्जनों स्थानों पर महेश शर्मा के पुतले फूंके जा चुके हैं, वहीं बीते नौ अगस्त को अखिल भारतीय गुर्जर परिषद और अन्य संगठनों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर महेश शर्मा के खिलाफ प्रदर्शन किया गया था। गौतमबुद्धनगर के गुर्जरों ने महेश शर्मा पर राजनीति में जातिवाद फैलाने का भी आरोप लगाया है।

केंद्रीय मंत्री मामले में 16 को होगी सुनवाई
गुर्जरों को गाली देने के आरोप में केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ता और अखिल भारतीय गुर्जर परिषद के गौतमबुद्धनगर सचिव ओमकार भाटी की अगुवाई में ग्रेटर नोएडा में विभिन्न स्थानों पर पुतले दहन किए गए थे। जिसके बाद बीते 24 जुलाई को ओमकार भाटी को उसके घर पर जाकर कई भाजपाइयों ने जान से मारने की धमकी दी थी। पुलिस-प्रशासन द्वारा केंद्रीय मंत्री के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिए जाने पर ओमकार भाटी ने सीजेएम कोर्ट में वाद दायर कर दिया था। मामले में अब 16 अगस्त को सुनवाई होनी है। ओमकार भाटी ने महेश शर्मा के खिलाफ जान से मारने की धमकी देना और गुर्जर समुदाय को गाली देने का आरोप लगाया है।

केंद्रीय मंत्री के मामला का सीएम ने लिया संज्ञान
गुर्जरों को गाली और जान से मारने की धमकी देने के मामले को ओमकार भाटी ने सीएम अखिलेश यादव तक पहुंचा दिया। जिसके बाद अखिलेश यादव ने मामले को संज्ञान में लिया है और ओमकार भाटी की शिकायत के मददेनजर अपने कार्यालय के विशेष सचिव अजय कुमार सिंह के जरिए गौतमबुद्धनर के डीएम एनपी सिंह को मामले में त्वरित कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>