माेहल्ले का प्यार: हर रोज एक दूजे का होता था दीदार मगर मिला ये खौफनाक अंजाम

Jan 10, 2018
माेहल्ले का प्यार: हर रोज एक दूजे का होता था दीदार मगर मिला ये खौफनाक अंजाम

झारखंड के एक प्रेमी और प्रेमिका की प्रेम कहानी ने हर किसी को झकझोर कर रख दिया है। ये दिनों अपने मोहल्ले में एक दूसरे को दिल दे बैठे। फिर क्या था वक्त के साथ साथ इनके प्यार में भी गहराइयाँ बढ़ती चली गई। और हाल ये हुआ कि जब तक ये एक दूसरे का दीदार नहीं कर लेते तब तक दोनों तड़पते रहते थे। लेकिन इसका अंजाम बेहद ही खौफनाक हुआ।

बता दें कि ये मामला झारखंड में धनबाद का है। मिली जानकारी के मुताबिक एक खुशबू नाम की युवती अपने पड़ोस में रहने वाले योगेश कुमार से बेइंतहां मोहब्बत करती थी। तीन सालों तक इनका प्रेम समाज सबसे छुपा रहा। ये दोनों अपनी अपनी खिड़की आकर अपने दिल का मिलन कर लिया करते थे। बल्कि एक दीदार के लिए दोनों तड़पते थे। इस बारे में योगेश के दोस्त ने बताया कि योगेश अपनी प्रेमिका खुशबू को लेकर कुछ लोगों से ही बात करता था। यही वजह थी कि कुछ दोस्तों को छोड़, इनकी प्रेम कहानी की जानकारी किसी को भी न थी।

लेकिन 15 नवंबर 2017 को हुआ ये कि योगेश और खुशबू ने अपनी मोहब्बत को सबके सामने जाहिर कर दिया। मगर दोनों के परिवार का विरोध शुरू हो गया। जिसके बाद इन दोनों ने घर छोड़ देने का फैसला कर लिया और भागकर रांची पहुंच गए। लेकिन खुशबू के परिवारवालों ने उन्हें खोज निकाला और उसे जबरन धनबाद ले आए। लेकिन एक दिन बाद यानि कि 16 नवंबर 2017 को योगेश की मौत की खबर खुशबू को मिली। उसका प्यार योगेश दुग्धा स्थित रेलवे लाइन पर मरा पड़ा था। जिसके बाद योगेश के परिवारवालों ने खुशबू के परिवार पर हत्या की एफआईआर दर्ज कराई। इस मामले में खुशबू के पिता, चाचा और फुफेरा भाई तेनुघाट जेल में हैं।

अपने प्यार योगेश की मौत के बाद खुशबू तन्हा थी। जहाँ योगेश अब सिर्फ और सिर्फ उसकी यादों में ही था। क्यों कि अब घर की खिड़की से योगेश नजर नहीं आता था। खुशबू के घरवालों ने अपनी बच्ची की ये हालत देखकर उसका मन बदलने की कोशश में उसे उसके मामा के भूली स्थित घर पहुंचा दिया। 51 दिन गुज़रने के बाद यानी 9 जनवरी 2018 को खुशबू की जली हुई लाश उसके मामा के घर के किचन में मिली। पहले प्रेमी और अब प्रेमिका की हुई मौत ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। दुग्धा पुलिस की मानें तो योगेश की हत्या के मामले में खुशबू एक अहम गवाह थी। शायद वह योगेश को लेकर अपने परिवार के खिलाफ थी। पुलिस उसकी गवाही कराना चाहती थी, लेकिन वह ऐसा न कर सकी। और 9 जनवरी 2018 की रात खुशबू की भी संदिग्ध हालत में मौत हो गई।

लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>