आतंकी संगठन ISIS ने ली, फ्लोरिडा नाइट क्लब में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी

Jun 13, 2016

अमेरिका के फ्लोरिडा स्थित एक समलैंगिक नाइट क्लब में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन आईएसआईएस ने ली है.

फ्लोरिडा के ओरलैंडो स्थित एक ‘गे क्लब’ में असॉल्ट राइफल से लैस एक हमलावर ने रविवार को 50 लोगों की हत्या कर दी और 53 अन्य को घायल कर दिया. इसे अमेरिका के इतिहास में अब तक का सबसे भयावह गोलीबारी कांड और 9/11 के बाद ‘सबसे भीषण आतंकी हमला’ भी कहा जा रहा है.

समाचार एजेंसी अमाक ने दावा किया है कि इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन आईएस ने ली है लेकिन अमेरिका की तरफ से इसकी पुष्टि नहीं की गई है.

अमेरिकी रिपोर्ट्स के अनुसार हमलावर की पहचान अफगान मूल के अमेरिकी नागरिक 29 वर्षीय उमर मतीन के तौर पर हुई है जो कि आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़ा था.

मतीन ने गे डांस क्लब के भीतर अंधाधुंध गोलीबारी करने के बाद आपातकालीन नंबर 911 पर फोन कर आईएसआईएस के सरगना अबू बकर अल-बगदादी के प्रति अपनी निष्ठा होने की बात कही थी.

इस फोन कॉल के दौरान उसने बोस्टन में धमाके करने वाले सरनाएव बंधुओं का भी जिक्र किया. इन दोनों भाइयों ने 2013 में बोस्टन मैराथन के दौरान धमाका किया था.

अधिकारियों के अनुसार मतीन ने गे क्लब के बाथरूम से 911 पर फोन किया. फोन करने के बाद उसने अपना पूरा नाम बताया.

उधर, हमलावर के पिता मीर सिद्दीकी ने कहा कि उसका मानना है कि उसका बेटा समलैंगिकों के प्रति घृणा से प्रेरित था, न कि अपने मुस्लिम धर्म से प्रेरित था.

उसने कहा कि उसके बेटे उमर मतीन का धर्म से कोई लेना-देना नहीं था. वह समलैंगिकों के प्रति घृणा से प्रेरित था. उसने हाल में मियामी में अपनी पत्नी और बच्चे की मौजूदगी में दो पुरूषों को एक-दूसरे का चुंबन करते देखा था जिससे वह बेहद क्रोधित था.

मतीन के पिता ने इस नरसंहार पर माफी मांगी है.

वहीं, अमेरिका की कानून प्रवर्तन एजेंसियों का कहना है कि मतीन पर उनकी पहले से नजर थी.

ओरलैंडो पुलिस के प्रमुख जॉन मिना ने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि वह संगठित और काफी तैयारी के साथ आया था.’’ शूटर के पास एक असॉल्ट जैसा हथियार, एक हैंडगन और कुछ अन्य तरह का उपकरण था.

ओरलैंडो के अधिकारियों ने कहा कि वे हिंसा को घरेलू आतंक का कृत्य मानते हैं और जांच में एफबीआई शामिल है.

एफबीआई के ओरलैंडो के ब्यूरो में विशेष सहायक एजेंट रोन हॉपर ने कहा कि जांचकर्ता सभी कोणों से जांच कर रहे हैं, उन्हें ‘‘संकेत मिले हैं कि उमर मतीन का (इस्लामी आतंकवाद) के प्रति झुकाव था, लेकिन अभी हम निश्चित तौर पर नहीं कह सकते.’’

राष्ट्रपति बराक ओबामा व्यक्तिगत तौर पर स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि एफबीआई आतंकवाद से जुड़ी इस घटना की जांच कर रही है.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा, ‘‘हमारी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं.’’

गोलीबारी से लेकर पुलिस मुठभेड़ में हमलावर के मारे जाने तक का पूरा घटनाक्रम करीब तीन घंटे का रहा. गोलीबारी रात करीब दो बजे शुरू हुई जब पल्स ओरलैंडो गे नाइटक्लब में तेज आवाज में संगीत चल रहा था.

पुलिस ने कहा कि असॉल्ट राइफल और एक हैंडगन से लैस हमलावर ने गोलियां चलाईं.

ओरलैंडो के पुलिस प्रमुख जॉन मिना ने कहा कि क्लब में ‘एक्सट्रा ड्यूटी’ कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने तुरंत जवाबी कार्रवाई की और जल्दी ही दो अन्य अधिकारी उसकी मदद को आ जुटे. दोनों पक्षों में मुठभेड़ शुरू हो गयी.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘इसी बीच हमलावर क्लब के भीतर घुस गया तथा वहां और गोलियां चलीं. यह बंधक वाली स्थिति में बदल गया.’’

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेट पार्टी की संभावित उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने इस घटना की निन्दा करते हुए कहा कि वह अमेरिका में सबसे भीषण गोलीकांड से बेहद दुखी हैं. वहीं, रिपब्लिकन पार्टी के संभावित उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने घटना को ‘संभावित आतंकवाद’ करार दिया.

वर्मोंट से सीनेटर बर्नी सैंडर्स ने घटना को भयावह और अकल्पनीय करार देते हुए कहा कि घटना हथियार नियंत्रणकदमों की आवश्यकता को रेखांकित करती है.

उप राष्ट्रपति जो. बाइडेन ने भी पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>