आधार कार्ड न होने पर हॉस्पिटल ने किया इलाज से इनकार, तड़प-तड़प कर मर गई कारगिल शहीद की विधवा

Dec 30, 2017
आधार कार्ड न होने पर हॉस्पिटल ने किया इलाज से इनकार, तड़प-तड़प कर मर गई कारगिल शहीद की विधवा

अगर आपके पास आधार कार्ड की मूल प्रति नहीं है तो आपके साथ भी ऐसा हो सकता है कि डॉक्टर आपका इलाज ही न करें। क्योंकि एक ऐसा ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहाँ पर आधार कार्ड की ओरिजिनल कॉपी ना दे पाने की वजह से देश के शहीद की पत्नी ने हॉस्पिटल के बहार दम तोड़ दिया।

बता दें कि ये मामला हरियाणा के एक निजी हॉस्पिटल का है। जहां हॉस्पिटल प्रबंधन जिद पर अड़ गया था कि उनको आधार कार्ड की कॉपी या आधार नंबर नहीं बल्कि आधार कार्ड की ओरिजिनल कॉपी चाहिए तभी जाकर महिला को हॉस्पिटल में भर्ती करेंगे। इस बारे में परिजनों का कहना है कि हॉस्पिटल प्रबंधन ने महिला को भर्ती तक नहीं किया और अपनी जिद पर अड़े रहे कि उनको आधार की ओरिजिनल कॉपी ही चाहिए। जिसके चलते देश के शहीद की पत्नी ने हॉस्पिटल के बाहर ही तड़प तड़प कर मर गई।

मिली जानकारी के मुताबिक महलाना गांव निवासी लक्ष्मण दास कारगिल युद्ध में शहीद हुए थे। उनकी विधवा पत्नी शकुंतला कई दिनों से बीमार थीं। उनके बेटे पवन उनको इलाज के लिए कई जगह ले गए थे। इतना ही नहीं बल्कि सेना कार्यालय में भी ले जाया गया था। लेकिन वहां से उनको निजी हॉस्पिटल जाने की सलाह दी गई थी। जिसके लिए शकुंतला को एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती के लिए ले जाया गया था। लेकिन वहां हॉस्पिटल प्रबंधन ने भर्ती करने से सिर्फ इस लिए इनकार कर दिया उनके पास आधार कार्ड की ओरिजिनल कॉपी नहीं थी।

लेकिन इस बीच शकुंतला का दर्द बढ़ता चला गया और वो दर्द से तड़प रही थी। लेकिन इसके बाद भी हॉस्पिटल प्रबंधन उनके बेटे की बात सुनने को तैयार नहीं था और आधार कार्ड की ओरिजिनल कॉपी दिखाने पर अड़ा हुआ था। जिसके बाद परिजनों ने उन्हें दूसरे हॉस्पिटल ले जाने का फैसला किया मगर अभी उस के लिए कुछ कर पाते कि शकुंतला अपने दर्द को बर्दाश्त न कर सकी और दम तोड़ दिया। लेकिन हॉस्पिटल प्रबंधन ने अपनी गलती मानने के लिए तैयार नहीं है। इस बारे में हॉस्पिटल प्रबंधन का कहना है कि वह इलाज के लिए तैयार था मगर परिजन मरीज को इमरजेंसी वार्ड से बाहर ले गए और दूसरे हॉस्पिटल ले जाते समय उनकी मौत हो गई।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>