अपनी ही सरकार पर बोला धावा, ऊँचे ओहदे में आरक्षण के लिए कानून बनाने की मांग

Oct 10, 2016
अपनी ही सरकार पर बोला धावा, ऊँचे ओहदे में आरक्षण के लिए कानून बनाने की मांग

भाजपा सांसद एवं दलित नेता उदित राज अपनी सरकार के खिलाफ आरक्षण की मांग उठाते हुए कहा कि सरकार चाहे किसी भी दल की हो, दलितों पर अत्याचार कम नहीं हो सकता है, क्योंकि सामाजिक व्यवस्था ही ऐसी बनी है। उन्होंने आन्दोलन के बारें में जानकारी देते हुए कहा कि यह आंदोलन 26 नंवबर को शुरू होगा. उसके बाद 28 नवंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली कर निजी क्षेत्र में आरक्षण नीति लागू कराने की मांग की जायेगी।

राज ने चेतावनी देते हुए कहा कि जातिगत आरक्षण का विरोध किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगा क्योंकि समाज में जब तक जाति नहीं टूटेगी तब तक आरक्षण व्यवस्था होनी चाहिए। दलित उत्पीड़न को लेकर कहा कि दलितों पर अत्याचार बढ़ा है चाहे ऊना में हुआ हो या हैदराबाद में। आरक्षण के साथ छेड़छाड़ किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा, जन्म और जाति के आधार पर ही जमीन का मालिक, पुजारी तय होता है और सम्मान मिलता है तो जाति के आधार पर आरक्षण मिलने में कुछ भी गलत नहीं है।

ये भी पढ़ें :-  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलीं महबूबा मुफ्ती, कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>