सेक्स नहीं करने वाली छात्राओं को, प्रिंसिपल करा देता था फेल

Aug 12, 2016
भोपाल में एक प्राइवेट पैरामेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल पर करीब 40 छात्र-छात्राओं ने सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। बताया है कि जितनी भी छात्राओं ने प्रिंसिपल के साथ सेक्स संबंध नहीं बनाए, उन सबको ना केवल प्रेक्टिकल में फेल कर दिया गया बल्कि प्रिंसिपल का विरोध करने वाले 40 छात्र-छात्राओं का कॉलेज से बर्खास्त भी कर दिया गया। चौंकाने वाली बात यह है कि प्रिंसीपल की इस करतूत की शिकायत सांसद आलोक संजर एवं तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा से भी की गई थी परंतु उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। यह शिकायत सीएम हेल्पलाइन में भी हुई थी।
छात्राओं का कहना है कि प्रिंसिपल के हाथ में प्रेक्टिकल 200 नंबर हैं। प्रिंसिपल ने थ्योरी में 11 नंबर लाने वाली छात्रा को 100 से अधिक नंबर दिए, वहीं थ्योरी में अधिक अंक लाने वाली छात्राएं को फेल कर दिया है क्योंकि ये छात्राएं प्रिंसिपल के साथ फिजिकल रिलेशन बनाने को तैयार नहीं थी। राज्य महिला आयोग पहुंचकर छात्राओं ने गुरुवार को लिखित आवेदन दिया है।
छात्राओं का कहना है कि प्रिसिंपल के खिलाफ उन्होंने सीएम हेल्प लाइन तक में शिकायत की, लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हुई। इसके अलावा वे सांसद आलोक संजर, मंत्री नरोत्तम मिश्रा तक को इसकी शिकायत कर चुकी हैं। छात्राओं का कहना है, कि उन्हें न्याय चाहिए और प्रिसिंपल को कड़ी सजा दी जाए। इस मामले में आयोग ने प्रकरण की जांच कराने की बात कही है।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>