पंचायत ने किया फैसला अब मोबाइल नहीं रखेंगी लड़कियां

Jun 25, 2016
मुजफ्फरनगरजानसठ थाना क्षेत्र के राटौर गांव में शुक्रवार की शाम जाट समाज के 16 गांव की एक पंचायत बुलाई गयी। पंचायत में बड़े-बुजुर्गो के साथ-साथ गांव के युवक-युवतियों को भी बुलाया गया था। पंचायत में मौजूद पंचों की मानें तो समाज में फैल रही कुरूतियों को दूर करने के लिए इस पंचायत का आयोजन किया गया। लेकिन, पंचायत में जो निर्णय लिया गया, उसे सुनकर आप भी दंग रह जाएंगे।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पंचायत में युवतियों को स्मार्ट मोबाइल न रखने का फरमान सुनाया गया और वहां मौजूद सभी ग्रामीणों ने पंचायत के इस फरमान पर अपनी-अपनी सहमति भी जता दी। वहीं, पंचायत में मौजूद युवतियों ने भी पंचायत की हां में हां मिलाते हुए पंचायत के इस फैसले को सही बताया है। पंचायत के सदस्यों ने बताया कि, इस पंचायत से पहले वो युवतियों के पहनावे को लेकर भी पंचायत कर चुके हैं, जिसमें युवतियों के जींस और स्कर्ट पहनने पर प्रतिबंध लगाया गया था।
ईनाडु के अनुसार जाट महासभा के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह ने बताया कि, कई एजेंडे हैं। हमारे समाज और बिरादरी में जो कुरीतियां है, उन्हें दूर करने की जिम्मेदारी भी हमारी है। उन्होंने बताया कि, ऐसी शिकायतें आ रही थी कि स्कूल जाते समय बच्चे फोन के माध्यम से गड़बड़ करते हैं। कम उम्र के बच्चों को बहकने की ज्यादा उम्मीदें रहती है। इसलिए उन पर ध्यान देना जरुरी है। पंचायत में फैसला लिया गया कि बच्चों को बड़े-बड़े मोबाइल न देकर छोटे-छोटे मोबाइल दिया जाए। उन्होंने कहा कि गांव के ही नहीं इलाके के सभी लोग हमारी बात से सहमत हैं।
वहीं, पंचायत में शामिल हुए संतोष कुमार वर्मा का कहना है कि, हमने अकेले में लड़के-लड़कियों को मोबाइल पर बात करने पर प्रतिबंध लगाया है। अगर कोई बात है, तो वे परिजनों के सामने बात करें। वहीं, ग्राम प्रधान चन्द्रशेखर ने बताया कि, प्रतिबंध इस बात पर लगाया गया है की इंटर तक लड़की और लड़के मोबाइल कम से कम इस्तेमाल करें और अगर करें तो छोटे मोबाइल का प्रयोग करें।
अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे
लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>