देश चौपट हो गया है, इसको संभलने में 10 साल लग जायेंगे वो भी तब जब कोई अशांति न हो

Jun 03, 2017
देश चौपट हो गया है, इसको संभलने में 10 साल लग जायेंगे वो भी तब जब कोई अशांति न हो

देश चौपट हो गया है, इसको संभलने में 10 साल लगेंगे वो भी तब जब कोई अशांति न हो लोगों को साल भर काम मिले 365 दिन !

वरना जिस तरह से मामूली कहासुनी पर हत्याऐं हो रहीं हैं वो संकेत हैं कि लोग किस कदर भविष्यहीन हैं ! और किस कदर मार देने को उतारु हैं, इनकी उमर देख लीजीए हमलावर 20 से 30 साल तक के लौंडे हैं,

अपने घर में जरुरत का सामान और नकद पैसा रखें ! जल्द ही ये भविष्यहीन उन्मादी भीड़ उस साफ्ट टार्गेट को ढूंढेगी जो इस समय अपने हिल्ले रोजी से लगा है नौकरीपेशा है, क्योंकि आप भूल जाते हैं आपकी खुशहाली के पीछे बहुत लोगों के लिए अवसर न होना है, सुरक्षित आप भी नहीं हैं इसलिए बहुत ज्यादा फ्लैशी होना बहुत ज्यादा इतराना बहुत ज्यादा परेशानहाल लोगों के सामने मोती जैसे दांत चियार के ही ही खी खी करना…इससे बचें, जाने कब कहां किसे आपका व्यवहार खल जाय और आप मामूली कहासुनी में हमेशा के लिए खर्च हो जांय !

ये भी पढ़ें :-  भारत में घरेलू नौकर होते दुर्व्यवहार के शिकार

इसलिए लो प्रोफाइल रखें गंभीरता से रहें चुपचाप काम पर जायें बहुत ज्यादा दिखा-दिखा के खरीदारी न करें !
वीभत्स घटनाओं से लाशों से गाली भरे वीडिओ से रोज फेसबुक खून में तर दिखती है, कहीं वीभत्स बलात्कार के बाद कटी फटी लड़कियां कहीं छुरा, तलवार, पत्थर से कूंच के मारे गये आदमी, कहीं कार में खाना पैक कराके घर लौटता डीआईजी के बेटे की गोली मारकर हत्या, कहीं घर में पकती सब्जी की जांच करती पुलिस फायरिंग में 5 लोग जख़्मी….

गांवों में उन्मादी बेकारों के झुंड, और शहर में तो कोई चाकू गोद के निकल कर गली में गुम हो जा रा… 45 दिनों में 500 से ज्यादा हत्याऐं 200 बलात्कार 65 डकैती….संघ के प्रशिक्षण शिविर में 500 युवक आग के छल्लों से कूद रे, लाठी तलवार बंदूक का सांस्कृतिक प्रशिक्षण ले रे तो ये संस्कृति संस्कार कल अप्लाय भी करेंगे, और गृहयुद्ध किसे कहते हैं ?

ये भी पढ़ें :-  पहली ही नज़र में CM को हुआ था इनसे प्यार, काजोल समझ किया था प्रपोज

हो सकता है आप और आपके मित्रों का दायरा आपके जैसा सरकारी नौकरी पेशा हो इसलिए आप निशचिंत हैं कि ये तो बस खबरें हैं, आप भी इसी समाज का हिस्सा हैं खबर बनने से पहले !

इसलिए आप भी सजग चौकन्ने रहिए सुरक्षा की काउंटर तैयारी रखिये ! 2% जीडीपी 6 महीने में डाउन होने का मतलब जानते हैं ?
बाकी आपकी मरजी ! आतंक फैलाना बहुत आसान है और फिर आतंक के रोकथाम के लिए बरती गयी सुरक्षा खुद उससे बड़ा आतंक होती है !

एक राज्य का बंदा दुसरे में असुरक्षित

चीन ने विदेशी निवेशकों से कोई साल भर पहले कहा था- “भारत के पास बेशक बहुत अच्छा प्राकृतिक वातावरण है पर वो एक अशांत क्षेत्र है वहां आप अपना कारखाना लगाकर अपने निवेश से अपेक्षित लाभ नहीं पा सकते ! आपकी औद्योगिक सुरक्षा और उत्पादन दोनों वहां के भीतरी हालातों से प्रभावित होंगे !”

आज आये दिन दंगे मारकाट खून लाशें देखकर विदेशी निवेशक अपने करार वापस ले रहे हैं बड़े पैमाने पर तमाम औद्योगिक क्षेत्रों से कर्मचारियों को बाहर किया जा रहा है और तो और टाटा समूह ने भी आजकल में 1500 कर्मचारी बाहर कर दिये हैं !

ये भी पढ़ें :-  क्लिक करें ये ऑप्शन, फिर बिना इंटरनेट चलेगा आपका WhatsApp, जानिए

देश का बहुत ही बुरा हाल है, पहले कशमीर में कहते थे कि सुबह घर से निकला तो शाम को वापस घर पहुंचेगा इसकी गारंटी नहीं है आज तो कशमीर से कन्याकुमारी तक किसी की कोई गारंटी नहीं ! लोकलिटी वैमनस्य इतना है कि विदेशी छोड़ो कोई एक राज्य का बाशिंदा दूसरे राज्य में असुरक्षित है !

सीमा पर उड़ाये पाकिस्तानी बंकर, चीन सीमा में उतारा ग्लोबमास्टर, थर थर कांपा चीन, नक्शे से तीस सेकेंड में मिट जायेगा पाकिस्तान…. कहते रहो ! सच तो ये है पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल, श्रीलंका बर्मा आजकल परिपक्व और कामकाजी हो चुके ! वो दिल्ली की थेथरई देख के हंस हंस के जरुर कांप रे होंगे !

दीप पाठक की फेसबुक वाल से

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>