हिंदू-मुस्लिम दोनों के खून का रंग लाल, मैं जातिवाद की राजनीति से नफरत करती हूँ: ममता बनर्जी

Oct 19, 2017
हिंदू-मुस्लिम दोनों के खून का रंग लाल, मैं जातिवाद की राजनीति से नफरत करती हूँ: ममता बनर्जी

आज एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर ‘जातिवाद’ की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि मुझे जातिवाद की राजनीति से नफरत है।

बता दें कि शहर में विभिन्न स्थानों पर काली पूजा के उद्घाटन के बाद सीएम ममता बनर्जी ने संवाददाताओं से कहा कि “भाजपा जातिवाद की राजनीति कर रही है और लोगों को धर्म के नाम पर विभाजित करने का काम कर रही है, जिसे बंगाल के लोग बर्दाश्त नहीं करेंगे।” उन्होंने कहा कि “मैं उन लोगों से नफरत करती हूं जो अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए दूसरों के धार्मिक आस्थाओं का इस्तेमाल करते हैं। कौन व्यक्ति किस धर्म को मानता है, ये उनका निजी मामला है। कोई भी किसी दुसरे व्यक्ति पर धर्म को थोप नहीं सकता, और सत्ता के लोगों की यह दायित्व भी बनता है कि वे लोगों का एकजुटता बनाये रखें न कि विभाजित करें।”

ये भी पढ़ें :-  शिवसेना नेता बोले- 'गुजरात चुनाव ट्रेलर था, राजस्थान उपचुनाव इंटरवल है, पूरी फिल्म 2019 में देखेंगे'

सीएम ममता बनर्जी ने भाजपा की असलियत बताते हुए कहा कि “कुछ लोगों ने मंदिर में आपत्तिजनक सामान रख कर अफवाह फैला दी कि हिन्दुओं के जज्बात को ठेंस पहुचाने के लिए ऐसा काम किया गया। लेकिन इनमे से रंगे हाथ एक व्यक्ति को लोगों ने पकड़ा लिया जब उस से पूछताछ की गई तो उसने कबूल किया कि वह बीजेपी कार्यकर्ता है।” सीएम ने सभी धर्मों के मानने वाले लोगों से ये अपील की है कि “जातिवाद के झूठे जाल में किसी को फंसना नहीं है, हिंदू और मुसलमान दोनों के खून का रंग लाल है। बंगाल में विभिन्न धर्मों और जातियों के लोग भाईचारे के साथ एकजुट होकर रहते हैं।”

ये भी पढ़ें :-  कासगंज हिंसा पर बोले रामगोपाल यादव-'हिंदू ही हिंदू को मार रहा लेकिन फँसाए जा रहे मुसलमान'
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>