अपने विवादित बयान पर बीजेपी नेता ने दी सफाई, बोले- मेरा बयान मुसलमानों के खिलाफ नहीं

Jan 04, 2018
अपने विवादित बयान पर बीजेपी नेता ने दी सफाई, बोले- मेरा बयान मुसलमानों के खिलाफ नहीं

अभी हाल ही में कुछ दिन पहले बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने मुसलमानो के खिलाफ एक बहुत बड़ा बयान दिया था, जिसके चलते वह अपने आपको विवादों में फसता देख, अपने दिए गए बयान पर सफाई देने लगे।

बता दे कि कुछ दिन पहले बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने मुसलमानो के खिलाफ एक बयान दिया था, उन्होंने कहा था कि मैं कट्टरवादी हिन्दू हूं और हमारे लिए पहले हिंदुस्तान है। ये हिन्दुओं का देश है, कुछ नालायक नेताओं ने इन ‘दाढ़ीवालो’ को यहां रोक दिया था जिससे आज हम मुसीबत में हैं। उनके इस बयान से वह काफी विवादों में घिर गए थे, जिसके कारण उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि उनका बयान पकिस्तान के खिलाफ था न कि मुसलमानो के खिलाफ।

ये भी पढ़ें :-  एक बार फिर से पाकिस्तान ने की शर्मनाक हरकत, पाक ने दागे गोले, 2 नागरिकों की मौत 7 हुए घायल

मुजफ्फरनगर के खतौली से बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि कुछ नालायक गैर जिम्मेदार नेताओं ने यहाँ कुछ मुसलमानो को रहने के लिए अनुमति दे दी थी। बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने दावा किया था कि विभाजन के समय मुसलमानो के यहाँ रुकने के कारण आज भारत में हम हिन्दू समस्याओ का सामना करते दिखाई पड़ रहे है। अगर ये चले जाते तो जो ये करोड़ों की इतनी सम्पत्ति धन दौलत ज़मीन घेरे पड़े है। आज वो भी हिन्दुओं की होती। बता दे कि उन्होंने अपने बयान के बारे में सफाई देते हुए कहा कि, मेरी मंशा किसी की धार्मिक भावनाओ को चोट पहुंचाने के लिए नहीं थी। सैनी ने ये कहकर विवादों से निकलने का प्रयास किया।

ये भी पढ़ें :-  इस्लाम छोड़ लड़की ने अपनाया हिंदू धर्म, बोली- 'बंदिशों से हो गई थी परेशान'

बता दे कि बीजेपी नेता विक्रम सैनी ने कहा कि मेरी मंशा किसी की धार्मिक भावनाओ को चोट पहुंचाने के लिए नहीं थी। “पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय कैदी कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां के साथ इस्लामाबाद में किए गए अशोभनीय बर्ताव से मैं आक्रोशित था”, और इसी बीच विक्रम सैनी के इस विवादित बयान पर यूपी के मंत्री धरम सिंह सैनी ने बताया कि यह उनकी खुदकी राय है। धरम सिंह सैनी बताया कि विक्रम सैनी 2013 में हुए मुजफ्फरनगर मामले में आरोपी भी हैं, जिसके कारण उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में भी रखा गया था।

ये भी पढ़ें :-  अफ्जरुल के बाद एक और बंगाली मुसलमान की राजस्थान में हुई हत्या, शव पर मिले एसिड के जलने के निशान
लाइक करें:-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>