जनता के हक़ में हो गया बड़ा फैसला, जनता के अकांउट में 8-8 लाख भेजेगी सरकार

Dec 31, 2016
जनता के हक़ में हो गया बड़ा फैसला, जनता के अकांउट में 8-8 लाख भेजेगी सरकार

भारतीय रेलवे अब यात्रि‍यों का सफर अब और सुरक्षि‍त एवं आरामदायक बनाने जा रहा है। इन सबके बावजूद अगर यात्री को कि‍सी तरह का नुकसान उठाना पड़ता है तो उसकी भरपाई करने की कोशि‍श भी की जा रही है। रेलवे बोर्ड ने जारी नोटिफिकेशन में कहा है कि वैध टिकट पर ट्रैवल करने वाले पैसेंजर की ट्रेन एक्सीडेंट में मृत्यु होने पर उसके परिजनों को मिलने वाली मुआवजा राशि 4 लाख रुपए की बजाय 8 लाख रुपए होगी। इसके अलावा ट्रेन दुर्घटना में अगर किसी व्यक्ति के चेहरे पर गंभीर चोटें आती हैं या एक्सीडेंट के दौरान कोई रेल पैसेंजर दिव्यांग हो जाता है,तो वह भी 8 लाख रुपए की मुआवजा राशि का हकदार होगा। वही ई-टिकट पर 10 लाख रुपए का बीमा मुआवजा देगी। साथ ही यात्रा के दौरान अगर ट्रेन हादसे में किसी यात्री की मृत्यु हो जाती है,तो उसके परिजन को ‘रेलवे बीमा मुआवजा’ का 10 लाख रुपए और‘एक्‍सीडेंट मुआवजा’का 8लाख रुपए को मिलाकर कुल 18 लाख रुपए की रकम देगा।

ये भी पढ़ें :-  लालकिले को भी गद्दारों ने बनाया था...तो क्या पीएम मोदी वहां से तिरंगा फहराना बंद कर देंगे: ओवैसी

इसके अलावा 1 अप्रैल से सीनियर सिटीजन के लिए आधार कार्ड जरूरी किया जायेगा। अगर वरिष्‍ठ नागरिक रेलवे किरायों में छूट पाना चाहते हैं। तो अब रिजर्वेशन के दौरान आधार कार्ड उपलब्ध करवाना अनिवार्य हो जाएगा। रेलवे का यह नियम काउंटर से टिकट लेने और ई-टिकट दोनों पर लागू होगा। रेलवे बोर्ड काउंटर से टिकट खरीद पूरी तरह से कैशलेस कर रही है। जिसकी शुरुआत दिल्ली में शुरू हो गई है।

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>