सेना और पुलिस ने ऊपरी असम में कई सारे आईईडी किए बरामद

Jul 25, 2016

सेना और पुलिस ने ऊपरी असम में वार्ता-विरोधी गुट उल्फा-आई द्वारा बिछाये गये कई सारे इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) बरामद किये.

डिब्रूगढ़ में एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि उल्फा (आई) द्वारा आईईडी बिछाये जाने से संबंधित गुप्त सूचना के आधार पर, कमरचुक गांव में नमरप के पुलिस उपाधीक्षक पर्थ बिजोय दत्ता के नेतृत्व में एक अभियान शुरू किया गया.   उन्होंने बताया कि उल्फा से संबंधित एक व्यक्ति, लखयाजीत गोगोई को गिरफ्तार किया गया.

गिरफ्तार होने के बाद लखयाजीत ने बताया कि बम को उसे उल्फा-आई के उग्रवादी प्रदीम असोम उर्फ एकोन ने नाहरकटिया शहर के किसी भीड़ भरे बाजार में विस्फोट कराने के लिए दिया था.  उन्होंने बताया कि कल रात को ओल्ड डिब्रूगढ़ रेलवे स्टेशन पर एक और आईईडी बरामद किया गया.

एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि चरैदो जिले में, एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ की टीम ने एक संयुक्त अभियान शुरू किया और बहलहबी क्षेत्र से 2.5 किलोग्राम आईईडी बरामद किया.

उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान लखयाजीत ने यह भी खुलासा किया कि चरैदो जिले के मोरनहट और सोनारी शहरों में आईईडी बिछाने के लिए शंकर गोहैन और निरब सैकिया उर्फ भाईजान नाम के दो लोगों के पास दो आईईडी हैं.

अधिकारी ने बताया कि उल्फा से संबंधित दो और लोगों- निरब सैकिया उर्फ नित्यजीत उर्फ भाईजान और हरन राजकोनवर उर्फ टिकोंग को भी गिरफ्तार किया गया और उनसे पूछताछ की जा रही है.

तिनसुकिया जिले में, पुलिस और सेना के एक संयुक्त अभियान के दौरान तिनसुकिया पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत हिजुगेरी में उल्फा से संबंधित अनुपम उर्फ सुचन असोम को गिरफ्तार किया गया.

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

 

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>