योगी ने दिया जवाब, आजम खान को पागलखाना भेजा जाए

May 04, 2016

लखनऊ। राज्यपाल एवं योगी आदित्यनाथ समेत संतों-महंतों पर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खां द्वारा की गई टिप्पणी को अमर्यादित एवं असंवैधानिक बताते हुए गोरक्षपीठ के महंत एवं भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने कड़ा प्रतिवाद किया है। आजम खां को मानसिक रूप से विक्षिप्त बताते हुए उन्होंने कहा कि राज्य एवं केंद्र की संवैधानिक संस्थाओं एवं संत परंपरा का लगातार अपमान कर रहे आजम खां को मंत्रिमंडल से अविलंब बर्खास्त कर देना चाहिए। सपा प्रमुख मुलायम सिंह एवं मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को बिना देर किए यह कदम उठाना चाहिए। साथ ही बरेली या आगरा के पागलखाने भेजकर उनका इलाज कराना चाहिए। अब तो साबित हो चुका है कि ऐसा व्यक्ति इतने बडे राज्य का मंत्री बने रहने के काबिल नहीं है। दिल्ली में मौजूद योगी ने जागरण से बातचीत में कहा कि आजम खां को भारत की संत परपरा का ज्ञान नहीं है। इसीलिए वह अनाप-शनाप बोलते रहते हैं। अच्छा होता कि अपने बाप से इस बारे में उन्होंने सवाल पूछ लिया होता।

आज गोरखपुर में सपा और भाजपा के दो दिग्गजों में खूब जबानी जंग चली। दोनों ने एक दूसरे को पागल और फ्रस्टेट करार दिया। सपा सरकार के मंत्री आजम खां ने भाजपा सांसद योगी आत्यिनाथ को फ्रस्टेशन दूर करने के लिए शादी करने की सलाह दी। इसके प्रतिवाद में गोरक्षपीठ महंत ने आजम को विक्षिप्त करार देकर बिना देर किए बरेली या आगरा के पागलखाने भेजने के लिए कहा। उल्लेखनीय है कि गोरखपुर में आजम ने पहले योगी पर तीखा हमला कर यहां तक कहा कि मर्दानगी साबित करने के लिए पहले योगी शादी कर लें।
योगी शादी कर दूर करें फ्रस्टेशनः आजम
आजम खां ने आज भाजपा सांसद योगी आत्यिनाथ पर उनके गृहजनपद में निशाना साधा। योगी के पिछले बयानों की याद दिलाए जाने पर आजम ने कहा कि योगी आदित्यनाथ एवं उनके जैसे साधु-संत शादी-शुदा नहीं हैं इसीलिए नफरत फैलाना उनके एजेंडे में है। मैं तो कहता हूं कि वे शादी कर लें तो सारा फ्रस्टेशन दूर हो जाएगा। उन्हें प्रेम मोहब्बत की भाषा बोलनी चाहिए। उन्होंने साक्षी महराज के बयानों के बारे में पूछे जाने पर उन्हें ‘दुष्कर्मी’ बताते हुए कहा कि ऐसे व्यक्ति का तो नाम भी जुबान पर नहीं लेना चाहिए।

अन्य ख़बरों से लगातार अपडेट रहने के लिए हमारे Facebook पेज को Join करे

लाइक करें:-
कमेंट करें :-
 

संबंधित ख़बरें

Jan 19, 2018

वायरल वीडियो

और पढ़ें >>

मनोरंजन

और पढ़ें >>
और पढ़ें >>